दलित का सम्मान करने एवं कैप्टन को साधने दिल्ली से चंडीगढ़ दौड़ी सोनिया!

ख़बर शेयर करें

चंडीगढ़ एसकेटी डॉटकॉम

पंजाब में नेतृत्व परिवर्तन के बाद राष्ट्रीय अध्यक्षा सोनिया गांधी ने आज सुबह ही दिल्ली से चंडीगढ़ रवाना हो गई। ताजा जानकारी के अनुसार उन्हें चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर उतरते हुए देखा गया है वह चंडीगढ़ में नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के शपथ समारोह में उपस्थित रहकर उनका मनोबल बढ़ाएंगे इसके अलावा दलित मुख्यमंत्री के रूप में उनका सम्मान भी बढ़ जाएगा ।

सूत्रों के अनुसार खबर आ रही है कि वह यहां से शपथ से पूर्व शिमला भी जा सकती हैं जहां वह पंजाब के निवर्तमान मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से भी मुलाकात कर सकती हैं। माना यह जा रहा है कि कैप्टन को मुख्यमंत्री पद से हटाए जाने से वह नाराज हैं तथा नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ उन्होंने देशद्रोही होने का भी बयान दिया है जिसस कांग्रेस का मामला काफी उलझा हुआ है।

पंजाब में मिशन 2022 के लिए अब कुल मिलाकर 6 महीने का समय बचा हुआ है इसलिए पार्टी आलाकमान इन सारी गतिविधियों पर नजर बनाए हुए हैं। कैप्टन अमरिंदर सिंह और सोनिया गांधी के बीच पारिवारिक रिश्ते भी रहे हैं कैप्टन के नाराज होने से इन दोनों के परिवारों के बीच मतभेद की खाई गहरी हो सकती है इसलिए सोनिया गांधी कैप्टन से मिल सकती हैं। आने वाले 2022 के चुनाव में जिस तरह से नवजोत सिंह सिद्धू के समर्थकों ने उन्हें चेहरा बनाए जाने की मांग तेज कर दी है उससे कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नाराजगी जताते हुए कहा कि उन्हें पंजाब का प्रधान बनाने से पार्टी का काफी नुकसान हो सकता है।

वही नवजोत सिंह सिद्धू के समर्थकों ने मिशन 2022 के लिए उन्हें चेहरा बनाए जाने की जोरदार मांग की है। हरीश रावत इन सारे मामलों को देखते हुए अभी चंडीगढ़ में ही डेरा डाले हुए हैं वह आज शपथ ग्रहण समारोह में भी मौजूद रहेंगे हरीश रावत को विगत दिनों अचानक कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे दिए जाने की खबर के बाद उत्तराखंड में चल रही परिवर्तन यात्रा को हरिद्वार में ही छोड़कर चंडीगढ़ के लिए जाना पड़ा जहां हाईकमान के निर्देश पर विधायकों ने चरणजीत सिंह चन्नी को अपने विधायक दल का नेता चुना।

सोनिया गांधी का एक्शन में आना निश्चित रूप से पंजाब के कांग्रेस के भविष्य के लिए निर्णायक माना जा सकता है। जिस तरह से पंजाब में सब कुछ ठीक नहीं हो रहा है उसको देखते हुए सोनिया ने इस पूरे मामले में स्वयं हस्तक्षेप करने का निर्णय लिया है इसलिए वह आज सवेरे ही दिल्ली से चंडीगढ़ पहुंच गई हालांकि उनका आधिकारिक कोई कार्यक्रम नहीं था लेकिन जिस तरह से वह चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर देखी गई उससे निश्चित रूप से यह कयास लग गए कि वह शपथ समारोह के अलावा कैप्टन अमरिंदर सिंह से शिमला स्थित उनके आवास पर भी मिल सकती है।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *