महिला पुलिस कर्मियों का नया वीडियो आया सामने, फोन बजता रहा, रील बनती रही

ख़बर शेयर करें



उत्तराखंड में पुलिस कर्मियों को लगा सोशल मीडिया के लिए रील बनाने का रोग अब आम जनता के लिए जानलेवा साबित हो सकता है। हालात ये हैं कि आपातकालीन कंट्रोल रूम में ड्यूटी पर तैनात महिला पुलिसकर्मी अपनी ड्यूटी छोड़ रील बना रहीं हैं।

इसका एक नया वीडियो वायरल हुआ है। दुखद ये भी है कि इस दौरान कंट्रोल रूम का फोन भी बज रहा है लेकिन महिला पुलिस कर्मी बजाए फोन रिसीव करने के रील बनाने में व्यस्त हैं। शुरुआती जांच में साबित हो गया है कि ये रील कंट्रोल रूम में ही बनाई गई थी।
दरअसल हाल ही में सोशल मीडिया पर दो वीडियो वायरल हुए। इनमें से एक वीडियो में पांच महिलाएं एक पहाड़ी गाने पर डांस करते हुए दिख रहीं हैं। वहीं साथ ही एक और वीडियो वायरल हुआ जिसमें तीन महिलाएं पहाड़ी भाषा में पहले से रिकॉर्डेड वॉयस पर एक्ट करते हुए रील बना रहीं हैं।


सोशल मीडिया पर जब ये दोनों वीडियो वायरल हुए तो पता चला कि ये वीडियो देहरादून में एसएसपी दफ्तर के ऊपरी हिस्से में बने Dial 112 इमरजेंसी सेवा का कंट्रोल रूम है और जो महिलाएं रील बनाते और डांस करते हुए वीडियो बना रहीं हैं वो महिला पुलिस कर्मी हैं जिनकी ड्यूटी इस इमरजेंसी कंट्रोल रूम में लोगों की मदद के लिए लगाई गई है। शुरुआती जांच में सामने आया कि ये वीडियो दिवाली वाले दिन बनाया गया था और महिला पुलिसकर्मियों ने दिवाली के चलते अपनी यूनिफार्म नहीं पहनी थी और सिविल ड्रेस में ही कंट्रोल रूम में पहुंच गईं थीं।


बजता रहा फोन, बनती रही रील
सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो बेहद हैरान करने वाला है। इस वीडियो में तीन महिला पुलिसकर्मी रील बनाते हुए दिख रहीं हैं। इस वीडियो से आती आवाजों को ध्यान से सुनिए तो आपको बैकग्राउंड में लैंडलाइन फोन की रिंग सुनाई देगी। कंट्रोल रूम में तैनात महिला पुलिस कर्मियों की गंभीरता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इमरजेंसी कंट्रोल रूम में फोन की घंटी बजती रही और वहां तैनात महिला पुलिसकर्मी मस्ती करती रहीं। ऐसे में सवाल ये है कि उस वक्त क्या कोई किसी तरह की मदद के लिए फोन कर रहा था जिसे महिला पुलिसकर्मियों ने अनसुना कर दिया?


जांच के आदेश, कार्रवाई तय
महिला पुलिस कर्मियों की अनुशासन हीनता के बारे में जब पुलिस के आला अधिकारियों के बारे में पता चला तो वो भी एक बारगी हैरान रह गए। देहरादून के एसएसपी दिलीप सिंह कुंवर ने इस संबंध में एसपी क्राइम को जांच के आदेश दिए हैं। वहीं दूरसंचार विभाग भी इसकी जांच कर रहा है।पुलिस अधिकारियों के सख्त रवैए को देखते हुए ये साफ है कि अगर दोष साबित होता है तो इसमें शामिल महिला पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई तय है।


सीसीटीवी का डीवीआर जब्त
सोशल मीडिया पर ये दोनों ही वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस अधिकारियों पर कार्रवाई का दबाव है। फोर्स में डिसिप्लीन एक बड़ी बात होती है लेकिन महिला पुलिस कर्मियों ने ऑन ड्यूटी इस अनुशासन को रील में धुआं धुआं कर दिया। इसके बाद अब अधिकारी इन महिला कर्मियों पर कार्रवाई का मन बना रहें हैं। इसी के चलते इस मामले की जांच शुरु हो गई है। सूत्रों की माने तो सोशल मीडिया में वायरल वीडियो की पुलिस ने अपने स्तर से जांच करा ली है। इन दोनों की वीडियो की ओरिजिन ट्रेस किया गया और वो कंट्रोल रूम ही निकली। इसके बाद जांच टीम ने कंट्रोल रूम में लगे सीसीटीवी के डीवीआर को जब्त कर लिया है। अब इस डीवीआर की जांच की जाएगी।


शिफ्ट में ड्यूटी, उसमें भी लापरवाही!
Dail 112 सेवा पुलिस के लिए बेहद महत्वपूर्ण सेवा है। पुलिस महकमा इसे लेकर बड़े बड़े दावे करता है। पुलिस कहती है कि किसी भी आपातकालीन परिस्थिती में ये नंबर डायल करें और पुलिस आपकी मदद के लिए मौजूद रहेगी। हालांकि इसी सेवा के राजधानी में बने कंट्रोल रूम से जो वीडियो सामने आया है वो इन दावों को झुठला रहा है। दिवाली की रात जो बेहद संवेदनशील मानी जाती है उस रात को कंट्रोल रूम में तैनात पुलिस कर्मी अगर मस्ती करें तो इससे सेवा की गंभीरता पर सवाल खड़े होना लाजिमी है।


आमतौर पर पुलिस कर्मियों की दो तरह की ड्यूटी होती है। एक वो जो वो फील्ड में करते हैं और दूसरी वो जो पुलिस के दफ्तरों, कंट्रोल रूम इत्यादि में की जाती है। फील्ड ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों को जहां कई चुनौतियों से गुजरना होता है वहीं ऑफिस में बैठ कर काम निष्पादित करने वालों को तुलनात्मक रूप के कम चुनौतियों का सामना करना पड़ता है।

इसके साथ ही कंट्रोल रूम में शिफ्ट में ड्यूटी भी लगाई जाती है ताकि किसी एक पर अधिक बोझ न पड़े। ऐसे में कुछ लापरवाह पुलिस कर्मियों ने पूरी फोर्स को सवालों को घेरे में खड़ा कर दिया।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.