उत्तराखंड में सफर महंगा करने पर कंफ्यूजन, मंत्री बोले, अभी नहीं हुआ

ख़बर शेयर करें


उत्तराखंड में वाहनों की किराया दरें बढ़ाने को लेकर कंफ्यूजन हो गई है। राज्य के परिवहन मंत्री कह रहें हैं कि इस बारे में अभी अंतिम फैसला नहीं हुआ है। इसपर सरकार अंतिम फैसला लेगी।


दरअसल कल ही राज्य में सरकारी बसों और टैक्सी के साथ ही अन्य सार्वजनिक परिवहन से जुड़े वाहनों के किराए में इजाफे का ऐलान किया गया था।


इसके बाद अब राज्य के परिवहन मंत्री का एक बयान सामने आया है। मंत्री चंदन राम दास ने कहा है कि उन्हें राज्य में सफर महंगा होने के बारे में जानकारी नहीं है। मंत्री ने कहा है कि इस बारे में स्टेट ट्रांसपोर्ट अथारिटी फैसला लेती और इस बारे में उन्हें कुछ नहीं बताया गया है। मंत्री चंदन राम दास ने ये भी है कि अभी राज्य में बढ़ा हुआ किराया लागू नहीं हुआ है।


मीडिया से बातचीत में मंत्री चंदन राम दास ने कहा है कि राज्य में सफर का किराया बढ़ाए जाने को लेकर अंतिम फैसला सीएम पुष्कर सिंह धामी लेंगे। इस संबंध में मंत्री ने कहा है कि इसकी पत्रावलियां उन तक आ जाएं उसके बाद देखेंगे।


आपको बता दें कि शुक्रवार को राज्य में किराए की दरें बढ़ाने का ऐलान किया गया था। इस संबंध में एसटीए की ओर से पूरी रेट लिस्ट जारी कर दी गई थी। नई दरें लागू होने पर रोडवेज और केमू बसों में सफर 25 से 130 रुपये तक महंगा हो गया। साथ ही ट्रक का मालभाड़ा प्रति कुंतल 28 से 105 रुपये तक बढ़ गया।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.