राष्ट्रपति चुनाव में उत्तराखंड के इन विधायकों ने नहीं डाला वोट

ख़बर शेयर करें



उत्तराखंड में कांग्रेस और बीजेपी के कुछ विधायकों ने अपना वोट नहीं डाला है। इसे लेकर चर्चा हो रही है। राज्य के कुल 70 विधायकों में 67 विधायकों ने ही मतदान किया है। राज्य के तीन विधायकों ने अपने मताधिकार का प्रयोग नहीं किया।


जिन विधायकों ने अपना वोट नहीं डाला है उनमें दो विधायक कांग्रेस के हैं जबकि एक बीजेपी का विधायक है। वोट न डालने वाले जिस विधायक की सबसे अधिक चर्चा हो रही है वो हैं कांग्रेस के विधायक राजेंद्र भंडारी। राजेंद्र भंडारी ने वोट क्यों नहीं डाला अभी तक ये स्पष्ट नहीं हो पाया है।


वहीं जब इस बारे में कांग्रेस की पोलिंग एजेंट ममता राकेश से चर्चा की गई तो उन्होंने कहा है कि राजेेंद्र भंडारी से फोन पर संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन उनका फोन स्विच ऑफ मिला है।


राजेंद्र भंडारी के वोटिंग से गैरमौजूद रहने और अपनी ही पार्टी के नेताओं को इस संबंध में जानकारी न देने को लेकर सियासी गलियारों में चर्चा हो रही है।


वहीं कांग्रेस के एक अन्य विधायक तिलक राज बेहड़ ने भी वोट नहीं डाला है। बेहड़ अस्वस्थ होने के चलते वोट डालने नहीं पहुंच पाए हैं।


बीजेपी के विधायक और कैबिनेट मंत्री चंदन राम दास भी बीमार होने के चलते अपना वोट नहीं डाल पाए। उन्हे अचानक अस्पताल में एडमिट होना पड़ा।


70 में से कुल 67 विधायकों ने अपना वोट डाला है। सुबह 10 बजे से शाम पांच बजे तक वोटिंग के बाद बैलेट बॉक्स दिल्ली के लिए रवाना कर दिए गए हैं। 21 जुलाई को वोटिंग के नतीजे सामने आएंगे।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.