माकपा ने अग्निपथ योजना को बताया, सेना का निजीकरण

ख़बर शेयर करें



मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने केन्द्र की मोदी सरकार द्वारा अग्निवीर भर्ती योजना का नाम देकर सेना के तीनों अंगों के नीजिकरण के फैसले निन्दा की है। पार्टी की उत्तराखंड राज्य कमेटी ने कहा है कि भाजपा सरकार के इस जनविरोधी फैसले का असर हमारी सेना की कार्य प्रणाली पर पड़ेगा।


राज्य कमेटी ने कहा है कि इस फैसले का सर्वाधिक प्रभाव उत्तराखंड पर पड़ेगा जहाँ से हर एक परिवार से भारतीय सेना मे हैं। पहले भी मोदी सरकार आयुध निर्माणियों का नीजिकरण कर काफी कुछ रोजगार हमसे छीन चुकी है। अब फौज के निजीकरण से बचा हुआ रोजगार भी चला जागा।


अग्निवीरों को उत्तराखंड पुलिस भर्ती में मिलेगी प्राथमिकता
पार्टी ने कहा है कि सरकार द्वारा साजिश के तहत पिछले दो साल से आर्मी की भर्तियां रोक दी गई थी। अब आर्मी मे सिविल की तरह आऊटसोर्सिंग के आधार पर कार्य शुरू हो जाऐगा जो कि हमारी देश की सुरक्षा के साथ देश के बेरोजगार युवाओ के भविष्य पर मोदी सरकार का सबसे बड़ा हमला है। पार्टी सरकार के इस जनविरोधी फैसले पर व्यापक आन्दोलन कर भाजपाराज की असलियत को जनता के बीच ले जागी। जब तक यह फैसला वापस नही होता पार्टी अपनी विरोध कार्यवाही करती रहेगी ।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.