गोलाबारी में यूक्रेन के 1 सैनिक की मौत, फंसे कई उत्तराखंडी

ख़बर शेयर करें



यूक्रेन की सेना ने गत दिवस कहा कि रूस समर्थक अलगाववादियों की पिछले 24 घंटों में पूर्वी यूक्रेन में की गई गोलाबारी में एक सैनिक की मौत हो गई और 6 घायल हो गए। इस समय संघर्ष विराम उल्लंघन उच्च स्तर पर है। वहीं रूस द्वारा पूर्वी यूक्रेन के दो प्रांतों को स्वतंत्र देशों की मान्यता देने के बाद कई पश्चिमी देशों, अमेरिका के बाद अब जापान ने भी रूस पर प्रतिबंध लगा दिया है।


यूक्रेन में फंसे कई उत्तराखंडी
आपको बता दें कि यूक्रेन में कई उत्तराखंडी फंसे हुए हैं। उनके परिजनों सरकार से उनके बच्चों को सुरक्षित भारत लाने की गुहार लगाई है। बता दें कि कांग्रेस इसको लेकर सीएम पुष्कर सिंह धामी को पत्र लिख चुकी है। आपको जानकारी दे दें कि उत्तराखंड के कई बच्चे यूक्रेन में पढ़ाई करने गए थे लेकिन वहां के हालातों को देखते हुए उनके परिजन परेशान हैं। उन्होंने सरकार से मदद की गुहार लगाई है।


आपको बता दें कि सेना ने अपने फेसबुक पेज पर कहा कि उसने एक दिन पहले 84 की तुलना में पिछले 24 घंटों में अलगाववादियों द्वारा गोलाबारी की 96 घटनाएं दर्ज की हैं। इसमें कहा गया कि अलगाववादी ताकतों ने भारी तोपखाने, मोर्टार और ग्रेड रॉकेट सिस्टम का इस्तेमाल किया।


यूक्रेन ने रूस पर हिंसा भड़काने का आरोप लगाते हुए कहा है कि उसने इसका इस्तेमाल पूर्वी यूक्रेन को औपचारिक रूप से स्वतंत्र रूप से मान्यता देने और अपने सैनिकों को इस क्षेत्र में स्थानांतरित करने के बहाने के रूप में किया, जिससे एक संकट पैदा हो गया कि पश्चिम के डर से एक बड़ा युद्ध शुरू हो सकता है।


जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा ने बुधवार को कहा कि हमारी सरकार जापान में रूस के सरकारी बांड को जारी करने और वितरण पर बैन लगाएगी। कहा कि जापान दो यूक्रेनी विद्रोही क्षेत्रों से जुड़े लोगों को वीजा जारी करना भी निलंबित कर देगा। इसके अलावा जापान में उनकी संपत्ति को फ्रीज किया जाएगा और दोनों क्षेत्रों के साथ व्यापार पर प्रतिबंध लगाए जाएंगे।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.