जिला विकास अधिकारी के ऊपर महिला इंजीनियर ने लगाया छेड़छाड़ का आरोप,गिरफ्तार

Ad
ख़बर शेयर करें

उत्तरकाशी।यहां के विकास खण्ड पुरोला में मनरेगा योजना में काम करने वाली महिला इंजीनियर से छेड़छाड़ के आरोप में उत्तरकाशी के जिला विकास अधिकारी विमल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। एसपी मणिकांत मिश्रा ने बताया कि मामले में जांच शुरू कर दी गई है। आरोपी डीडीओ के खिलाफ यदि कोई अन्य शिकायत आई तो उस पर भी कानूनी कार्रवाई की जाएगी। मामला उत्तरकाशी का है, जहां पुरोला विकासखंड में तैनात एक महिलाकर्मी से जिला विकास अधिकारी ने छेड़छाड़ की। डीडीओ ने पीड़ित को लोनिवि के बंगले में बुलाकर उसके साथ अश्लील हरकतें की। महिलाकर्मी ने आरोपी अफसर के खिलाफ पुरोला थाने में केस दर्ज कराया है। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने जिला विकास अधिकारी विमल कुमार के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। घटना को लेकर पुरोला क्षेत्र के ग्रामीणों में आक्रोश है। उन्होंने आरोपी की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की। पुलिस को दी गई शिकायत में महिला कर्मचारी ने बताया कि गत दिवस की शाम जिला विकास अधिकारी विमल कुमार उसे पुरोला बाजार में मिले थे।

दोनों के बीच ट्रांसफर के मामले को लेकर बातचीत हुई। इसके बाद जिला विकास अधिकारी ने महिलाकर्मी को मंगलवार को लोनिवि गेस्ट हाउस में मिलने के लिए कहा। पीड़ित का कहना है कि जब वो गेस्ट हाउस पहुंची तो डीडीओ ने बीडीओ को कमरे से बाहर भेज दिया। इसके बाद डीडीओ ने उसके साथ अश्लील हरकत और छेड़छाड़ की। पीड़ित किसी तरह वहां से निकली और घर पहुंचकर परिजनों को घटना के बारे में बताया। गत दिवस की शाम महिला कर्मी ने पुरोला थाने में आरोपी डीडीओ के खिलाफ केस दर्ज कराया।

पीड़ित की शिकायत पर आरोपी डीडीओ विमल कुमार के खिलाफ छेड़छाड़ और अश्लील हरकत की धारा में केस दर्ज किया गया है। पुरोला के ग्रामीण आरोपी की जल्द गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। वहीं पूरे मामले को लेकर जिला विकास अधिकारी विमल कुमार ने कहा कि उन पर लगाए गए आरोप गलत हैं। वो किसी भी महिला कर्मचारी से नहीं मिले हैं।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *