हरेला पर्व पर यूओयू ने किया बसानी में पौधरोपण,ग्रामीणों को दी गयी पौधों के संरक्षण की जिम्मेवारी

ख़बर शेयर करें

राजेन्द्र सिंह क्वीरा

हल्द्वानी। हरेला पर्व के अवसर पर उत्तराखण्ड मुक्त विश्वविद्यालय के गोद लिए गांव बसानी में बृहद रूप से पौधारोपण किया गया और ग्रामीणों को उनके संरक्षण की जिम्मेवारी दी गयी। साथ ही इस मौके पर युथ हॉस्टल एसोसिएशन की जिला इकाई की ओर से साइकिल रैली निकालकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया गया।कुलपति प्रो. ओपीएस नेगी के निर्देशन पर विश्वविद्यालय के गोद लिए गांव बसानी में शुक्रवार को हरेला पर्व पर लगभग तीन दर्जन से अधिक फलदार, छायादार व फूलदार पौधों का रोपण किया गया। साथ ही उनके घेरबाड़ की भी आंशिक रूप से व्यवस्था की गयी और कार्यक्रम में उपस्थित ग्रामीणों को उनके संरक्षण की जिम्मेवारी दी गयी। इस मौके पर विश्वविद्यालय के निदेशक प्रो. गिरिजा पाण्डे व नोडल अधिकारी राजेन्द्र सिंह क्वीरा, सरमाउण्ट स्कूल की प्रधानाचार्या श्रीमती वनिता क्वीरा सहित दर्जनों लोगों ने बसानी में सरमाउण्ट पब्लिक स्कूल व उसके आसपास के क्षेत्रों में विभिन्न प्रजाति के पौधों का रोपण किया।

साथ ही उपस्थित ग्राम वासियों से पौधों की देखभाल करने की अपील की, जिस कई लोगों ने पौधों की देखभाल करने की जिम्मेवारी ली। इससे पूर्व प्रातः सात बजे युथ हॉस्टल एसोसिएशन की जिला इकाई ने फतेहपुर के बावनडांठ से बसानी तक साइकिल रैली निकालकर लोगों को पर्यावरण संरक्षण के प्रति संदेश दिया। इसके बाद बसानी में सभी लोगों ने फलदार, छायादार पौधों का रोपण किया, साथ ही उनके संरक्षण की भी स्वयं जिम्मेवारी ली। इस कार्यक्रम में डा. गिरिजा पाण्डे, डा. एचएस बिष्ट, डा. दीपक पालीवाल, सरोज पालीवाल, आरएस कालाकोटी, एडवोकेट प्रदीप लोहनी, पीयूष डालाकोटी, एचसीएस डांगी, संदीप जोशी, संजय तिवारी, अनिल भण्डारी आदि लोग थे। जबकि पौधारोपण कार्यक्रम के दौरान प्रधान बिमला तड़ागी, श्रीमती जीवन्ती तड़ागी, दान सिंह तड़ागी, हेमन्त सिंह, सौरभ, निधि, मनस्वी आदि अनेक लोग थे।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *