चार धाम यात्रा में जाने से पहले जरूर पढ़ें यह खबर

ख़बर शेयर करें

उत्तराखंड में चार धाम यात्रा पर आने का मन बना रहें हैं तो ये खबर आपके लिए बेहद जरूरी है। राज्य में चार धाम योजना के तहत अब बिना पंजीकरण के कोई दर्शन नहीं कर पाएगा।


उत्तराखंड में इस बार चार धाम यात्रा में बड़ी संख्या में श्रद्धालु उमड़ रहें हैं। हालात ये हैं कि व्यवस्थाओं को संभालना राज्य सरकार के लिए मुश्किल हो रहा है। ऐसे में सरकार ने चारों धामों में यात्रियों की संख्या को नियंत्रित करने के लिए पंजीकरण अनिवार्य कर दिया है। ऐसे में अब बिना पंजीकरण के किसी भी यात्री का धाम में दर्शन कर पाना संभव नहीं है।


पंजीकरण अनिवार्य करने के बाद अब केदारनाथ में दर्शन के लिए 31 मई तक बुकिंग नहीं हो पा रही है। केदारनाथ में दर्शन पूजन के लिए 31 मई तक पंजीकरण फुल हो चुका है। केदारनाथा में अब तक दो लाख से अधिक श्रद्धालु दर्शन कर चुके हैं।


वहीं यमुनोत्रि में भी यही हाल है। यहां भी 31 मई तक पंजीकरण पूरा हो चुका है। दर्शन के लिए 31 मई के बाद की ही तारीख मिल पाएगी। वहीं बदरीनाथ और गंगोत्री में भी श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ रही है। अब बदरीनाथ में 20 मई और गंगोत्री धाम में 25 मई के बाद पंजीकरण उपलब्ध हैं। आपको बता दें कि सरकार ने केदारनाथ धाम के लिए 13 हजार, बदरीनाथ धाम के लिए 16 हजार, गंगोत्री के लिए आठ हजार और यमुनोत्री धाम के लिए पांच हजार प्रतिदिन संख्या तय की है।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.