@haldwami आई सेंटर में हुई छापेमारी जुर्माने के साथ किया सील

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी एसकेटी डॉटकॉम

बिना प्रमाण पत्रों के आई सेंटर चलाना एक आई सेंटर संचालक को भारी पड़ गया जब स्वास्थ्य और प्रशासन की संयुक्त टीम ने छापेमारी की. वहां पर बिना किसी टेक्नीशियन की दवाइयां दी जा रही थी.

प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जब संचालक से प्रमाण पत्रों के बारे में जानकारी चाही तो वह टीम को संतुष्ट नहीं कर पाया जिसके बाद क्लिनिकल इस्टैब्लिशमेंट एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए 10000 का जुर्माना लगा दिया है तथा साथ ही क्लिनिक को भी सील कर दिया है.

जानकारी के अनुसार हल्द्वानी में प्रशासन ने शहर के एक प्रमुख आई सेंटर में छापेमारी की कार्रवाई की गई, छापेमारी प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के द्वारा संयुक्त रूप से की गई सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने जानकारी देते बताया की एसीएमओ रश्मि पंत और उनके द्वारा संयुक्त रूप से टीम बनाकर कालाढूंगी रोड पर विजन आई सेंटर में छापेमारी की गई।

आई सेंटर क्लीनिक तुषार नाम के एक व्यक्ति द्वारा अनाधिकृत रूप से औषधि का वितरण किया जा रहा था, क्लीनिक चलाने वाले व्यक्ति के पास मौके पर ड्रग लाइसेंस नही मिला और उसके ओपीडी पैड पर डॉक्टर तुषार लिखा गया था, जब इस सम्बन्ध में टीम द्वारा द्वारा क्लीनिक चला रहे व्यक्ति से दस्तावेज मांगे गए तो मौके पर क्लीनिक चलाने वाले तुषार द्वारा कोई भी दस्तावेज नहीं पेश किया गया।
ऐसे में टीम द्वारा क्लीनिकल इस्टैब्लिशमेंट एक्ट के तहत ₹10 हजार का जुर्माना लगाया गया, साथ ही क्लीनिक को अग्रिम आदेश तक सील कर दिया गया है और क्लीनिक चलाने वाले व्यक्ति तुषार को तीन दिन के अंदर उत्तराखंड काउंसिल का रजिस्ट्रेशन मुख्य चिकित्सा अधिकारी नैनीताल के कार्यालय में उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.