तीरथ-त्रिवेंद्र के सवाल पर धामी का सटीक जवाब कितना ही बड़ा हो कानून करेगा अपना काम,अंदरखाने अभी और चलेगी खींचतान #dhami

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी एसकेटी डॉट कॉम

भारतीय जनता पार्टी में शायद अंदर खाने सत्ता का संघर्ष बढ़ता जा रहा है कुछ दिन पूर्व पूर्व मुख्यमंत्रियों त्रिवेंद्र और तीरथ ने सरकार पर अंदर खाने हमला बोला था तीरथ ने तो बिना पैसे लिए दिए काम नहीं होने की बात कही थी. तीरथ के अलावा त्रिवेंद्र कई बार सरकार पर निशाना साध चुके हैं. पत्रकार एवं विधायक उमेश कुमार की विशेष याचिका पर हाईकोर्ट ने तत्कालीन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह के खिलाफ सीबीआई जांच के आदेश दिये थे।

भारतीय जनता पार्टी के अंदर एक बार फिर सत्ता संघर्ष शुरू हुआ है तो फिलहाल इसके खत्म होने के कोई आसार नहीं आ रहे हैं इसका कारण यह है कि पिछले दिनों 2 पूर्व मुख्यमंत्रियों त्रिवेंद्र सिंह और  तीरथ रावत ने प्रदेश में भ्रष्टाचार तथा बिना पैसे दिए काम न होने की बात कही. जिससे सरकार को असहज होना पड़ा था कि पूर्व मुख्यमंत्री ही सरकार पर आरोप लगा रही है कि बिना लेनदेन की कोई भी काम नहीं हो रहा है ।

पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री धामी

इसके बाद सरकार ने अपने तेवर दिखाते हुए त्रिवेंद्र सिंह मामले में सरकार द्वारा उच्च न्यायालय नैनीताल के आदेश के खिलाफ उच्चतम न्यायालय दिल्ली में लगाई गई विशेष याचिका हटाने का निर्णय लिया है. उत्तराखंड हाई कोर्ट ने पत्रकार उमेश शर्मा द्वारा दायर किए गए विशेष मामले में  सरकार को आदेश दिया था कि तत्कालीन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के खिलाफ सीबीआई जांच कराई जाए

इस मामले कों लेकर सरकार उच्चतम न्यायालय में विशेष याचिका लगा चुकी थी लेकिन पिछले दिनों मामला पलट गया जब त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सरकार पर निशाना साधा था के बाद दूसरे मुख्यमंत्री रहे तीरथ सिंह ने भी बिना पैसे लिए यहां काम नहीं होने की बात कही थी.

त्रिवेंद्र सिंह कई बार सरकार पर हमलावर हुए हैं उन्होंने इशारों इशारों में कई बातें कहीं थी. इस के बाद धामी सरकार ने उस उस विशेष याचिका को वापस लेने का निर्णय लिया है जो उच्चतम न्यायालय में लगाया गया था.

अब राजनीतिक और तेज करवट लेने की संभावना बनती जा रही है जब हल्द्वानी की सर्किट हाउस में पत्रकारों में तीरथ और त्रिवेंद्र की दिल्ली दौड़ पर मुख्यमंत्री पर सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार के किसी भी मामले पर सरकार कोई ढिलाई नहीं बरती जाएगी चाहे यह मामला किसी भी बड़े नेता पर ना हो भाजपा में सभी समान हैं और सभी के साथ समान न्याय की प्रक्रिया की जा रही है 

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.