शिक्षा सचिव ने प्राइमरी स्कूलों को लेकर लिया यह बड़ा फैसला

ख़बर शेयर करें

उत्तराखंड में पहली से पांचवीं तक सभी कक्षाएं अब पूरा वक्त चलाने के आदेश कर दिए हैं। अभी तक ये कक्षाएं सिर्फ तीन घंटें तक संचालित हो रही थी। बुध‌वार को सचिव शिक्षा आर मीनाक्षी सुंदरम ने यह आदेश किया है।

यह फैसला उस वक्त लिया गया जब उत्तराखंड में कोरोना मामले लगातार बढ़ रहे हैं। यहां तक कई स्कूलों में बच्चे भी संक्रमित आ रहे हैं। इस फैसले को लेकर कोरोना पर नियंत्रण को लेकर संवेदनशीलता पर भी सवाल उठने लगे हैं। उत्तराखंड में जब कोरोना का संक्रमण कम था तब पहली से पांचवीं तक की कक्षाएं सिर्फ तीन घंटें चल रही थी। और अब जब लगातार आंकड़े बढ़ रहे हैं तो शिक्षा विभाग चाहता है कि अभिभावक अपने बच्चों को और ज्यादा देर तक स्कूल में भेजें इससे साफ लगता है कि शिक्षा विभाग संवेदनहीन हाथों में है सरकार को ऐसे अधिकारियों को जल्द बदल देना चाहिए ।

अभिभावक कभी भी नहीं चाहेंगे कि उनके बच्चे कोरोना संक्रमित हो ऐसे में भले ही सरकार तमाम आदेश कर ले लेकिन समझदार अभिभावक बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा दिलाना ही ज्यादा जरूरी समझ रहे हैं।अभी फिलहाल स्कूलों में 13 जनरवी तक शीतकालीन अवकाश है। इसके बाद यह आदेश प्रभावी माना जाएगा। इससे पहले सरकार छठी से लेकर 12 वीं तक की कक्षाओं का भी समय बढ़ा चुकी है। बेसिक शिक्षा निदेशालय ने कुछ दिन पहले यह प्रस्ताव भेजा था। प्रदेश के सभी सरकारी, आशसकीय सहायता प्राप्त और निजी शिक्षण संस्थानों पर यह आदेश लागू होगा

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.