मरचूला में मारी गई बाघिन की मौत की जांच शुरू. इज्जत बचाने के लिए आरक्षी पर गिराई निलंबन की तलवार

ख़बर शेयर करें

मरचूला एसकेटी डॉटकॉम

उत्तराखंड के अल्मोड़ा मे एक बाघिन के मौत पर वन विभाग आरोपों के घेरे में आ गया है। आरोप है कि बाघिन की मौत वन विभाग की गोली से हुई है।उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले में बीते सोमवार को कार्बेट नेशनल पार्क कालागढ़ रिजर्व से लगे अल्मोड़ा के मरचूला में बाजार में एक बाघिन घुम रही थी।

इसी बीच बाजार में लोगों के बीच हड़कंप मच गया। स्थानीय लोगों ने वन विभाग को सुचना दी। वन विभाग के कर्मचारियों द्वारा बाघिन को भगाने के लिए हवाई फायरिंग की गई लेकिन इसी बीच का एक बड़ा हादसा हो गया। इस हादसे का जिम्मेदार वन विभाग को ठहराया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक, वन विभाग की हवाई फायरिंग के कारण से बाघिन की मौत हो गई है। दावा किया जा रहा है कि हवाई फायरिंग के दौरान र्छे लगने से बाघिन मौत का शिका हो गई। हालांकि अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है कि आखिर मौत हुई है।

इसके अलावा बता दें की एक वीडियो में कार में बैठा एक शख्स बाघिन की ओर बंदूक ताने और फायर करते नजर आ रहा है। इस शख्स को वन कर्मचारी बताया जा रहा है।

सीटीआर निदेशक ने घटना के जांच के आदेश दिए हैं।

बाघिन कैसे आबादी क्षेत्र में आई?


विभाग का दावा है कि गोली चलने के बाद वह इधर-उधर घूमती रही लेकिन कुछ देर बाद उसने दम तोड़ दिया। कॉर्बेट कालागढ़ टाइगर रिजर्व पार्क के मंदाल रेंज के कर्मचारी बाघिन के शव को लेकर रामनगर ढेला रेस्क्यू सेंटर पहुंचे, जहां उस मृत घोषित कर दिया गया ।

मंगलवार को पोस्टमार्टम करने के बाद बाघिन के शव का अतिंम संस्कार कर दिया गया। बाघिन काफी बूढ़ी और कमजोर थी। साथ ही बता दें की मृत बाघिन की उम्र 11 से 12 वर्ष के बीच रही होगी। बाघिन आबादी क्षेत्र में कैसे पहुंची इसकी जांच की जा रही है।इसके साथ ही बता दें की बाघिन की हुई मौत पर वन विभाग के दावे के विपरीत सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में कार सवार वन कर्मचारी बाघिन की ओर नाल तानते हुए फायर करता नजर आ रहा है।

बता दें की वीडियो में गोली चलने की आवाज सुनाई दे रही है। वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर दीप रजवार ने बताया कि बाघिन की मौत पर कई सवाल खड़े हुए हैं। वीडियो से साफ है कि बाघिन को गोली मारी गई है। साथ ही बता दें की कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के निदेशक डॉ. धीरज पांडेय ने कहा की अल्मोड़ा के मरचूला के बाजार में घूम रही बाघिन ग्रामीणों पर हमले का प्रयास कर रही थी।

वन कर्मियों ने हवाई फायर किए जिसमें बाघिन को एक छर्रा लग गया और उसकी मौत हो गई। पूरे प्रकरण में जांच के निर्देश दिए हैं।

Ad Ad Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.