सावधान- अपात्र लोगों ने सफेद और गुलाबी कार्ड से राशन लिया तो बाजार भाव से होगी वसूली

ख़बर शेयर करें

हलद्वानी एसकेटी डॉट कॉम

गुलाबी व सफेद राशन कार्ड धारक अगर अपात्र हैं तो वह राशन ना लें खाद्य विभाग द्वारा इस मामले में सघन अभियान चलाया गया है जांच में अगर आप अपात्र पाए गए तो अब तक लिया गया राशन आपको भारी पड़ सकता है आपसे बाजार भाव से वसूली की जा सकती है इसके अलावा आप के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया जा सकता है। ऐसे लोगों से विभाग ने कहा है कि वह अपना राशन कार्ड पीले वाले राशन कार्ड में बदल ले।

जानकारी के मुताबिक ऐसे लोगों की जगत की जा रही है जो गरीबी रेखा अथवा अंत्योदय की श्रेणी में अपना कार्ड बना कर राशन ले रहे हैं जबकि वह वास्तव में इसके पात्र नहीं है। हेक्टेयर सिंचाई की जमीन चार पहिया वाहन 15,000 से अधिक की प्रतिमा के आमदनी के अलावा अंतोदय वाले कार्ड धारक के पास अगर चौपाइयां वाहन ले जाता है तो उनका कार्ड रद्द होने के अलावा उन्हें कानूनी कार्यवाही से भी गुजरना पड़ेगा।

सरकार द्वारा राष्ट्रीय खाद सुरक्षा योजना सफेद और गुलाबी राशन कार्ड से जुड़ी बड़ी खबर सामने आ रही है अब अपात्र व्यक्तियों को राशन नहीं मिलेगा योजना के तहत जो भी अपात्र व्यक्ति होंगे अगर वह राशन लेते हुए पाए गए तो उनके खिलाफ सख्त विभागीय कार्रवाई की जाएगी यहां तक कि अगर आप अपात्र है तो आपको अब राशन भी नहीं मिलेगा।

अगर आप सफेद और गुलाबी राशन कार्ड धारक हैं और अपात्र है तो अपना राशन कार्ड तुरंत जिला पूर्ति विभाग को वापस करें नहीं तो खाद्य विभाग आपके खिलाफ बड़ी कार्रवाई कर सकता है राशनकार्ड को लेकर फिर जिला पूर्ति विभाग अलर्ट मोड पर है। 15 हजार रुपये प्रतिमाह अधिक आय वाले परिवारों को सावधान रहना है। यदि उनके पास सफेद यानी गरीब रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाला राशन कार्ड है तो वह तत्काल उसे बदल लें।

विभाग के जांच में अगर आप अपात्र पाए गए तो कार्ड से अब तक लिए गए मुफ्त और सस्ते राशन के पैसे भी भरने पड़ सकते हैं। यदि ऐसी कार्रवाई हुई तो बहुत मुश्किल होगी। सालों का उपयोग किए फ्री व सस्ते गल्ले का हिसाब-किताब लंबा बैठेगा।
शासन के निर्देश पर जिला पूर्ति विभाग फिर से राशनकार्डों का खास तौर पर बीपीएल (पीएचएच/ सफेद) औऱ अंत्योदय (एएचवाइ/गुलाबी) कार्डों की जांच को अभियान शुरू हो गया है। अगर संबंधित मानक में नहीं आते हैं और किसी वजह से आपके पास सफेद या गुलाबी राशन कार्ड है, तो उसे तत्काल विभाग को लौटा दें। ऐसा करने पर भविष्य में होने वाली दंडात्मक कार्रवाई से बचा जा सकता है। ।
क्षेत्रीय खाद्य रवि सनवाल ने बताया कि ऐसे सफेद राशनकार्ड धारक जो उपरोक्त के अंतर्गत आते हैं। उनके लिए यह अंतिम अवसर है। राज्य खाद्य योजना यानी पीले राशनकार्ड में बदल सकते हैं। जांच प्रारंभ हो गई है, अपात्र पाय जाने पर संबंधित के विरुद्ध सुसंगत धाराओ में कानूनी कार्रवाई होगी। बाजार मूल्य लगभग 32 रुपये प्रतिकिलो की दर से वसूली भी होगी।
परिवार बदल लें राशनकार्ड
-15 हजार रुपये प्रतिमाह आय वाले परिवारर
-सेवानिवृत्त फौजी, अर्द्धसैनिक व रिटायर्ड पेंशनर कर्मचारी
-मोटर कार, ई-रिक्शा, बस, ट्रक, जेसीबी
-दो हेक्टेयर सिंचित भूमि से अधिक
-वार्षिक आय पर आयकरदाता
-चौपहिया वाहन वाले को नहीं मिलेगा अंत्योदय कार्ड।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.