By-Election : 26 जून तक वापस ले सकते हैं नाम, जल्द शुरू होंगे स्टार प्रचारकों के दौरे

ख़बर शेयर करें


उत्तराखंड में उपचुनावों को लेकर पार्टियां तैयारियों में जुट गई हैं। कांग्रेस से लेकर भाजपा तक बैठकों का दौर जारी है। बद्रीनाथ और मंगलौर दोनों ही सीटों पर जबरदस्त मुकाबला देखने को मिल रहा है। दोनों सीटों से सभी पार्टियों के उम्मीदवारों ने नामांकन कर दिया है।

Ad
Ad


बद्रीनाथ और मंगलौर सीट पर उपचुनाव के लिए 26 जून को नाम वापस ले सकते हैं। नाम वापसी के साथ ही कांग्रेस और भाजपा के स्टार प्रचारकों के उत्तराखंड दौरे शुरू हो जाएंगे। इसके साथ ही बसपा सुप्रीमो मायावती भी प्रचार के लिए उत्तराखंड आएंगी। बद्रीनाथ सीट पर जहां कांग्रेस और बीजेपी के बीच कड़ी टक्कर है तो वहीं मंगलौर सीट पर कांग्रेस और बसपा के बीच मुकाबला देखने को मिल रहा है।

बीजेपी ने प्रचार के लिए तैयार किया प्लान
बद्रीनाथ सीट और मंगलौर सीट पर प्रचार के लिए भाजपा ने कमर कस ली है। भाजपा अध्यक्ष महेंद्र भट्ट के मुताबिक बद्रीनाथ सीट पर कैबिनेट मंत्री डॉ धन सिंह रावत, भरत सिंह रावत अन्य विधायकों के साथ प्रचार की कमान संभाले हुए हैं। इसके साथ ही तीन जुलाई के बाद गढ़वाल सांसद अनिल बलूनी भी प्रचार करेंगे।

बीजेपी प्रत्याशी के प्रचार के लिए कैबिनेट मंत्री सौरभ बहुगुणा भी बद्रीनाथ विधानसभा का 3 से 5 जुलाई तक दौरा करेंगे। इसके साथ ही डॉ निशंक और हरिद्वार सांसद त्रिवेंद्र सिंह रावत के दौरे भी होने वाले हैं। इसके साथ ही सीएम पुष्कर सिंह धामी, प्रदेश प्रभारी और केंद्र से आने वाले प्रचारकों के कार्यक्रमों को अंतिम रूप दिया जा रहा है।

प्रचार के लिए मैदान में उतरी कांग्रेस
कांग्रेस भी उपचुनाव के प्रचार के लिए मैदान में उतर गई है। कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व सीएम हरीश रावत प्रचार करने के लिए मैदान में उतर गए हैं। हरीश रावत ने मंगलौर में पार्टी प्रत्याशी काजी निजामुद्दीन के लिए वोट अपील की है। उन्होंने कुछ अलग अंदाज में वोट अपील की। एक ओर जहां उन्होंने टिक्की तल कर जनता से वोट मांगे तो वहीं सब्जी के ठेले पर सब्जी बेचते हुए जनता से वोट मांगते हुए नजर आए।