बदरीनाथ हाईवे पर हुआ हादसा ट्रैवलर गिरने से 12 लोगों की हुई मौत सीएम धामी ने जताया शोक

ख़बर शेयर करें

रुद्रप्रयाग skt.com

Ad
Ad

शनिवार को उत्तराखंड में एक बड़ा सड़क हादसा हो गया। बद्रीनाथ हाईवे पर रैतौली क्षेत्र के पास एक टेंपो ट्रैवलर वाहन दुर्घटनाग्रस्त होकर खाई में गिर गया। हादसे में 12 लोगो की मौत हो गई और 14 लोग घायल हो गए। घायलों को रेस्क्यू कर एम्बुलेंस द्वारा जिला अस्पताल, रुद्रप्रयाग भिजवाया गया। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जनपद रुद्रप्रयाग में हुई वाहन दुर्घटना पर दुःख व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने इस दुर्घटना में दिवंगतों की आत्मा की शांति और शोक संतप्त परिजनों को धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से कामना की है। उन्होंने दुर्घटना में घायल हुए लोगों के स्वास्थ्य लाभ की कामना भी की है। मुख्यमंत्री ने ज़िलाधिकारी रूद्रप्रयाग को इस घटना की जाँच के आदेश दिये हैं। मुख्यमंत्री के निर्देश पर गंभीर रूप से घायल यात्रियों को एयर लिफ्ट कर एम्स ऋषिकेश लाया गया है
जानकारी के अनुसार शनिवार 15 जून को जिला नियन्त्रण कक्ष, रुद्रप्रयाग द्वारा एसडीआरएफ टीम को सूचित किया गया कि बद्रीनाथ हाईवे पर रैतौली क्षेत्र के पास एक टेंपो ट्रैवलर वाहन दुर्घटनाग्रस्त होकर खाई में गिर गया। जिसमें रेस्क्यू हेतु एसडीआरएफ टीम की आवश्यकता है।
घटना की गंभीरता को देखते हुए मणिकांत मिश्रा, सेनानायक SDRF के निर्देशानुसार पोस्ट रतूड़ा व अगस्त्यमुनि से एसडीआरएफ की 14 सदस्यीय 02 टीमें तत्काल मय रेस्क्यू उपकरणों के घटनास्थल के लिए रवाना हुई। उक्त वाहन में 26 यात्री जो चोपता-तुंगनाथ-चंद्रशिला ट्रिप पर घूमने यहां आये हुए थे। अनियंत्रित होकर मुख्य मार्ग से लगभग 500 मीटर नीचे खाई में दुर्घटनाग्रस्त हो गया।
जानकारी के अनुसार शनिवार 15 जून को जिला नियन्त्रण कक्ष, रुद्रप्रयाग द्वारा एसडीआरएफ टीम को सूचित किया गया कि बद्रीनाथ हाईवे पर रैतौली क्षेत्र के पास एक टेंपो ट्रैवलर वाहन दुर्घटनाग्रस्त होकर खाई में गिर गया। जिसमें रेस्क्यू हेतु एसडीआरएफ टीम की आवश्यकता है।

घटना की गंभीरता को देखते हुए मणिकांत मिश्रा, सेनानायक SDRF के निर्देशानुसार पोस्ट रतूड़ा व अगस्त्यमुनि से एसडीआरएफ की 14 सदस्यीय 02 टीमें तत्काल मय रेस्क्यू उपकरणों के घटनास्थल के लिए रवाना हुई। उक्त वाहन में 26 यात्री जो चोपता-तुंगनाथ-चंद्रशिला ट्रिप पर घूमने यहां आये हुए थे। अनियंत्रित होकर मुख्य मार्ग से लगभग 500 मीटर नीचे खाई में दुर्घटनाग्रस्त हो गया।

SI भगत सिंह कंडारी व SI धर्मेंद्र पंवार के नेतृत्व में एसडीआरएफ टीमों द्वारा घटनास्थल पर पहुंचकर अत्यधिक विषम परिस्थितियों में कड़ी मशक्कत करते हुए स्थानीय पुलिस व लोगों के साथ मिलकर संयुक्त रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया। जिस दौरान 14 घायलों को रेस्क्यू कर एम्बुलेंस द्वारा जिला अस्पताल, रुद्रप्रयाग भिजवाया गया। जहाँ से 7 गंभीर घायलों को हायर सेंटर एम्स ऋषिकेश एयरलिफ्ट किया गया। 10 लोगों की मौके पर ही मृत्यु हो चुकी थी। जिनके शवों को मुख्य मार्ग तक पहुँचाकर जिला पुलिस के सुपर्द किया गया। जबकि 2 लोगों की उपचार के दौरान अस्पताल में मृत्यु हो गयी। रेस्क्यू कार्य के दौरान एक महिला गाड़ी से छिटककर लगभग 80 मीटर नीचे झाड़ियों में अटकी हुई थी। SDRF टीम द्वारा नीचे उतरते समय खोजबीन करते हुए उसे रेस्क्यू कर रोड़ हेड तक लाकर अस्पताल भिजवाया गया।
SDRF की एक टीम इंस्पेक्टर कवीन्द्र सजवाण के नेतृत्व में एम्स, ऋषिकेश में उपस्थित रही जिनके द्वारा एयरलिफ्ट किये जाने वाले घायलों को हेली से उतारकर अस्पताल पहुँचाया गया।

कुल घायलों की संख्या:- 14
मृतकों की संख्या:- 12
कुल सवार:- 26