11 बजे 5तक बाबा की चरण वंदना के लिए पहुंचे 50 हजार, एसएसपी ने कही यह बात

ख़बर शेयर करें

भवाली। कैंची धाम का आज 60वां स्थापना दिवस है और ऐसे में नीब करौरी बाबा के दरबार में आस्था का सैलाब उमड़ा पड़ा है। कैंची धाम में सुबह 5.30 बजे बाबा नीब करौरी महाराज को भोग लगाने के बाद मालपुए का प्रसाद बंटना शुरू हो गया है। बताया जा रहा है कि कैंचीधाम में 11 बजे तक 50 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने दर्शन कर लिए थे।

Ad
Ad
मेले की सुरक्षा व्यवस्था में लगे एसएसपी पी आर मीणा


शुक्रवार की शाम को देश के कोने-कोने से पहुंचे 20 हजार से ज्यादा श्रद्धालुओं ने रात भर हनुमान चालीसा का पाठ किया। बाबा के जयकारों से कैंची धाम गूंज उठा। मंदिर समिति की ओर से 10 हजार से अधिक श्रद्धालुओं को भोजन कराया गया। सुबह से शाम तक मंदिर में बाबा नीब करौरी महाराज के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही।
नैनीताल के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रहलाद नारायण मीणा ने कहा बाबा जी के दरबार में आये भक्तों की सेवा करना उनको सुविधा प्रदान करना हमारी ड्यूटी एवं कर्तव्य है।
बाबा नीम करौली महाराज जी के दर्शन को कैंची धाम मन्दिर में आये भक्तों को एसएसपी ने स्थापना दिवस की बधाई देते हुए कहा कि जिला प्रशासन, पुलिस एवं मन्दिर समिति द्वारा जो भी व्यवस्थायें मेले के सकुशल सम्पन्न कराने हेतु की गयी है भक्त इस व्यवस्था को बनाये रखने में काफी सहयोग कर रहे हैं। अत्यधिक संख्या में भक्त अब तक दर्शन कर चुके हैं। शान्तिपूर्ण, खुशहाल तरीके से मेला चल रहा है।
शटल सर्विस सुगम रूप से चल रही हैं पार्किग में भी भक्तों की संख्या काफी हैं जिन्हें लगातार दर्शन कराये जा रहे हैं।
कहा कि पूरी उम्मीद है कि आज स्थापना दिवस का यह कैची धाम मेला ऐतिहासिक होने के साथ-साथ शान्तिपूर्ण तरीके से सम्पन्न होगा।बाबा जी के दरबार में आये भक्तों की सेवा करना उनको सुविधा प्रदान करना ये हमारे ड्यूटी एवं कर्तव्य है।उनकी सेवा करने का अवसर मुझे एवं मेरे विभाग को मिल रहा है ये सौभाग्य की बात है।
बाबा नीम करोली महाराज कैंची धाम में लगातार उमड़ रहा है भक्तों की आस्था का सैलाब, बाबा के जयकारों से गुंजायमान हो रहा है।
नैनीताल पुलिस के सभी उच्चाधिकारी व ड्यूटी में तैनात कर्मचारीगण लगातार व्यवस्थाएं बनाये हुए हैं। पुलिस प्रशासन द्वारा शटल सेवा, पार्किंग व्यवस्था को लेकर अपनी-अपनी ड्यूटी में मुस्तैद है। संदिग्ध गतिविधियों पर निगरानी* रखी जा रही है। कंट्रोल रूम से लगातार भक्त जनों को व्यवस्थाओं से अवगत एवम अपनी बारी का इंतजार करने एवं धैर्य बनाए रखने की अपील की जा रही है।