आखिर क्यों दिलीप रावत ने हरक को कहा चूका हुआ कारतूस

ख़बर शेयर करें

विधानसभा चुनाव 2022 के लिए मतगणना पूरी होते ही जनपद पौड़ी की 6 विधानसभा सीटें भाजपा के पक्ष में रही है। विधानसभा चुनाव के लिये सुबह 8 बजे से मतगणना शुरू हो गयी थी। वहीं दोपहर से भाजपा के पक्ष में रुझान आने शुरू हो गए थे। श्रीनगर विधानसभा को छोड़कर सभी सीटों में भाजपा बढ़त में चल रही थी। वही अंतिम राउंड समाप्त होते ही परिणाम भाजपा के पक्ष में रहे।


विजेता प्रत्याशीयों ने बताया कि यह संगठन की जीत है। संगठन के हर तबके ने पूरी मेहनत की है। इसके साथ ही बताया कि भाजपा सरकार ने अपने कार्यकाल में सभी लोगों का विकास किया। सभी तबके के लोगों को विभिन्न योजनाओं के माध्यम से लाभान्वित करने का काम किया गया है जिसका परिणाम है कि जनता ने उनका साथ देते हुए उन्हें फिर से विजयी बनाया है और सरकार बनते ही पूरे प्रदेश में विकास करने का काम किया जाएगा।

इस दौरान लैंसडाउन से जीत हासिल कर फिर से विधायक बने महंत दिलीप रावत ने हरक सिंह रावत पर हमला करते हुए कहा कि वो चूके हुए कारतूस हैं. वो संगठन के खिलाफ गए तो वो चुनाव हारे यानी की उनकी बहू अनुकृति गुसांई चुनाव हारी। जब तक वो संगठन के साथ थे उन्होंने प्रचंड वोटों से चुनाव जीता और कैबिनेट मंत्री बने लेकिन संगठन के खिलाफ जाने पर उन्हें हार हासिल हुई।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.