हल्द्वानी में आज तक सबसे गर्म दिन,कौन है जिम्मेदार? पढ़े खबर

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी शहर में आज तक का सबसे गर्म दिन 48° तापमान दर्ज किया है बता दे कि दिन से लेकर शाम होते होते तापमान में काफी बढ़त देखे को मिल जा रही है और बात की जाये पहाड़ी इलाको की तो वहां पर भी गर्मी का प्रकोप देखने को मिल रहा है पर जहां आज के समय मे गर्मी इतनी बढ़ती जा रही है कि आम इंसान का गर्मी को बर्दाश्त करने मुश्किल पढ़ रहा है इसके लिए आखिर कौन जिम्मेदार है! इस बढ़ रही गर्मी का जिम्मेदार और कोई नहीं बल्कि इंसान है क्योंकि अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए प्रकृति के साथ इंसान ने छेड़छाड़ करते जा रहा है जिसका नतीजा आज सबके सामने है। आज लोगो को गर्मी भी सहन नही हो पा रही है। जिस प्रकार से गर्मी का प्रकोप देखने को मिल रहा है इससे तो साफ जाहिर होता है कि बढ़ रहे ग्लोबल वार्मिंग की वजह से गर्मी का इतना प्रकोप देखने को मिल रहा है जहां नैनीताल के पास होने की वजह से हल्द्वानी शहर में कभी भी तापमान इतना ज्यादा दर्ज नहीं किया गया वहीं नैनीताल का पास होने के बावजूद भी हल्द्वानी शहर में इतने तापमान की वजह से लोग कभी परेशानी का सामना कर रहे हैं वहीं पंखे और कूलर भी गर्मी से लोगों को नहीं बचा पा रहे हैं। और रात में तो होते तापमान में गिरावट देखने को मिल रही है लेकिन इसके बावजूद भी रात को गर्मी की वजह से जो उमस हो रही है उसमें भी लोगों को काफी परेशानी और बेचैनी का सामना करना पड़ रहा है इस बढ़ रही गर्मी की वजह से लोगो मे पेट खराब और उल्टी की काफी शिकायते देखे को मिल रही है।

Ad
Ad

इन लक्षणों को ना करें नजरअंदाज

उत्तराखंड के जाने माने फिजिशियन डॉक्टर एसडी जोशी का कहना है कि गर्मी जानलेवा भी हो सकती है, इसलिए एहतियात बरतना बहुत जरूरी है। लू लगने से व्यक्ति में अत्यधिक थकान, कमजोरी, चक्कर आना, सिर दर्द, जी मिचलाना, शरीर में ऐंठन, तेज धड़कन, भ्रम की स्थिति जैसे लक्षण दिखने लगते हैं। इसके लिए जरूरी है समय समय पर पानी पीते रहे, प्यास न भी लगे तब भी पानी पीना बहुत जरुरी है।

इन बातों का भी रखें खास ख्याल

  • यात्रा के दौरान पानी अपने साथ रखें।
  • ORS और घर पर बने पेय पदार्थ जैसे शिकंजी, नारियल पानी, छांछ का उपयोग करते रहें।
  • मादक और कैफीनयुक्त पेय पदार्थों के साथ-साथ शर्करा युक्त पेय पदार्थों से बचें।
  • बच्चों, बुजुर्ग व्यक्तियों, बाहरी कर्मचारियों और पहले से किसी स्वास्थ्य समस्या वाले लोगों पर नजर रखें।
  • अत्यधिक गर्मी के घंटों के दौरान सख्त शारीरिक गतिविधि से बचें।