स्वागत-बाबा नीम करोली महाराज के दर्शन को आये- सड़क रुट के बारे में यह है जानकारी

ख़बर शेयर करें

हलद्वानी/ नैनीताल एसकेटी डॉट कॉम

15 जून को बाबा नीम करोली महाराज की जयंती के अवसर पर लगने वाले विशाल मेले लेकर प्रशासन ने तैयारियां शुरू कर दी है हल्द्वानी भांग वाली अल्मोड़ा राष्ट्रीय राजमार्ग पर लगने वाली जाम को देखते हुए प्रशासन ने रोड डायवर्जन का निर्णय लिया है। ताकि पहाड़ जाने वाले तथा पहाड़ से आने वाले लोगों को इस मेले से होने वाले किसी भी दिक्कत से बचाया जा सके। कोरना काल के बाद शुरू हो रही है ऐतिहासिक मेले को भव्य रुप से मनाने के लिए मंदिर समिति तथा श्रद्धालुओं द्वारा तैयारियां की जा रही हैं इसमें भारी मात्रा में भीड़ उमड़ने की संभावना है।

प्रशासन की ओर से जो तैयारियां की गई हैं उसकी जानकारी प्रशासन द्वारा इस तरह से दी गई है

1- हल्द्वानी से अल्मोड़ा-पिथौरागढ़ को जाने वाले भारी वाहन , यात्री वाहन , प्राइवेट वाहन दिनांक 14/06/2022 की सायं 05 बजे से खुटानी मोड़ भीमताल से, पदमपुरी – पोखरा-कशियालेख-शीतला-मोना-ल्वेशाल होते हुए क्वारब को डायवर्ट किये जायेंगे ।
2- नैनीताल से अल्मोड़ा पिथौरागढ़ को जाने वाले भारी वाहन/यात्री वाहन/ प्राइवेट वाहन दिनांक 14/06/22 की सायं 05 बजे से भवाली रामगढ़ तिराहे से होते हुए मल्ला रामगढ़, नथुवाखान .क्वारब , को डायवर्ट किये जायेंगे ।
3- इसी प्रकार अल्मोड़ा-पिथौरागढ़ से हल्द्वानी की ओर आने वाले भारी वाहन , यात्री वाहन , प्राईवेट वाहन दिनांक 14/06/22 की सायं 05 बजे से क्वारब पुल से मोना –ल्वेशाल-शीतला-पदमपुरी होते हुए खुटानी बैंड से भीमताल की ओर डायवर्ट किया जायेंगे ।
4- रानीखेत से आने वाले भारी वाहन, यात्री वाहन दिनांक 14/06/22 की सायं 05 बजे से खैरना पुल से क्वारब होते हुए मोना- ल्वेशाल-पदमपुरी से खुटानी बैण्ड से भीमताल को डायवर्ट किया जायेंगे ।
कैंची मेले में आने वाले श्रृद्धालुओ हेतु यातायात व्यवस्था-
1- भवाली की ओर से आने वाले दोपहिया वाहन जंग्लात बैरियर से आगे नहीं जायेंगे । इस बैरियर पर (टैक्सी व बस ) शटल सेवा भी रोककर वापस भेजी जायेगी ।

हल्द्वानी , नैनीताल की ओर से निजी वाहनो से आने वाले श्रृद्धालुओ को पहले चरण में सिद्धि रेस्टोरेंट तक भेजा जायेगा जहाँ से हरतपा रोड व भवाली की ओर एकतरफा पार्किंग की जायेगी । द्वितीय चरण में इस स्थान में दबाव बढ़ने पर समस्त निजी वाहनो को भवाली में पार्क कर शटल सेवा से भेजा जायेगा ।
3- भवाली की तरफ से कैंची धाम जाने वाले शटल सेवा जंग्लात खण्डहर पर सवारी उतारकर वापस भवाली को आयेंगे । इसी प्रकार खैरना से कैंची की ओर आने वाले दर्शनार्थी शटल सेवा से पनीराम ढाबे तक आयेंगे तथा यात्रीयो को उतारकर वापस चले जायेंगे ।
4- खैरना से कैंची धाम आने वाले दर्शनार्थी / यात्री वाहन, खैरना में पेट्रोल पम्प के आगे खाली जगह पर ही अपने वाहन पार्क करेंगे तथा शटल सेवा से पनीराम ढाबे तक आयेंगे और शटल सेवा से ही वापस जायेंगे ।
5- सेना के वाहनो के आवागमन को उक्त तिथि में परिवहन स्थगित किये जाने हेतु अनुरोध किया जा रहा है ।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.