द कश्मीर फ़ाइल फ़िल्म दिखाकर पूरी की बच्चों की इच्छा, बोले मनोज पाठक “सच्चाई को अब तक छिपाया गया ;

ख़बर शेयर करें

हलद्वानी एसकेटी डॉट कॉम

द कश्मीर फ़ाइल को देखने की इच्छा समाज के सभी वर्गों को हो रही है। लोग मणि दुमका दीप पुस्तकालय में अध्ययनरत बच्चों की यह हसरत भाजपा नेता मनोज पाठक ने पूरी की। समाज के बीच आजकल यह फिल्म काफी जिज्ञासा का विषय बनी हुई है। लो बच्चों में भी इस फिल्म को देखने की इच्छा जागृति हुई इसे पहचान कर लोग मणि दुमका दीप निकेतन के संचालन में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे भाजपा नेता मनोज पाठक में पूर्व सैनिकों के साथ बच्चों को इस फिल्म को दिखाने का फैसला लिया और अपने महत्वपूर्ण समय में से ढाई 3 घंटे का थोड़ा समय निकालकर इन बच्चों के साथ फिल्म का आनंद लिया।

23 मार्च 2022 को हल्द्वानी के “वाॉक वे माॉल” में “राष्ट्र चरित्र जागरूकता अभियान” के तत्वावधान में कश्मीर में हिन्दुओं पर हुए अत्याचारों पर बनी “दॅ कश्मीर फाइल्स” को विठौरिया स्थित “लोकमणी दुम्का सेवा दीप निकेतन पुस्तकालय” के विद्यार्थियों , युवाओं एवं नौजवानों को निशुल्क दिखाया गया ।

फिल्म देखने आए लोगों ने वंदे मातरम भारत माता की जय तथा नरेंद्र मोदी जिंदाबाद के नारे लगाए


“दॅ कश्मीर फाइल्स” देखने पहुंचे सेना से सेवानिवृत्त जनरल महेंद्र अधिकारी जी ने बताया कि विगत 30 वर्षों से यह सच्चाई देश से उस समय की वर्तमान सरकार द्वारा छुपाई गई , जिसे देश का युवा वर्ग कभी नहीं भुला पाएगा ।
लाईब्रेरी से पहुंचे विद्यार्थियों ने बताया कि जिस देश के युवा वर्ग से उस देश के इतिहास को छुपाया जाता है और जिसकी सत्यता बाद में देश को पता चलती है, तो उससे यह जाहिर होता है कि उस देश को विनाश की ओर धकेला जा रहा था । युवाओं ने कहा कि हम आभार व्यक्त करते हैं “राष्ट्र चरित्र जागरूकता अभियान” के संयोजक मनोज पाठक जी का जिनके माध्यम से हम इस सच्चाई को “दॅ कश्मीर फाइल्स” में दिखाए गए तथ्यों के आधार पर जान पाए ।
नौजवानों ने कहा कि “दॅ कश्मीर फाइल्स” का विरोध भी वही लोग कर रहें हैं जिनके बुजुर्गों द्वारा ऐसा क्रुरता भरा अत्याचार कश्मीरी हिन्दुओं पर किया गया ।


“दॅ कश्मीर फाइल्स” देखने पहुंचे दीप पांडे , बालम सिंह देऊपा, दीपक बिष्ट, हर्ष सिंह, संजय निग्लटिया , राजेश भारद्वाज व अन्य नौजवानों ने “राष्ट्र चरित्र जागरूकता अभियान” के संयोजक मनोज पाठक का धन्यवाद किया कि उनके दूरदर्शी सौच का ही परिणाम है कि आज तकरीबन 200 नौजवानों, व युवाओं को इस हकीकत को समझने व देखने का सुअवसर प्राप्त हुआ ।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.