शहीद की पत्नी का सीएम को अल्टीमेटम-3 दिन में नॉकरी नही दी तो …

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी एसकेटी डॉटकॉम

मुख्यमंत्री के यहां हल्द्वानी के एमबी कॉलेज मैदान मैं निरीक्षण के दौरान शहीद सैनिक मोहन नाथ गोस्वामी की विधवा भावना गोस्वामी ने सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए प्रार्थना पत्र दिया कि उसे अब तक नौकरी नहीं दी गई है। जब उसके पति 2015 में कश्मीर के हिंदू वाड़ आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हो गए थे तो उसके बाद सरकार ने वादा किया था कि शहीद की पत्नी को नौकरी दी जाएगी लेकिन 6 साल बाद भी उसकी नौकरी की फरियाद को सरकार ने कोई तवज्जो नहीं दी है।

2015 में कश्मीर के हिंदू वाड़ राइफलमैन मोहन नाथ गोस्वामी में 10 आतंकियों को ढेर करने के बाद शहीद हो गए थे उसके बाद सरकार ने उसे नौकरी देने का आश्वासन दिया था विभिन्न कार्यक्रमों में सैनिकों के सम्मान की बात करने वाली सरकार अपने ही वादे को पूरा नहीं कर पा रही है। उन्होंने कहा कि अगर 3 दिन में उसे नौकरी नहीं दी गई तो वह अपने बच्चों को लेकर हल्द्वानी में धरने पर बैठ जाएंगी।

मरणोपरांत अशोक चक्र प्राप्त मोहन नाथ गोस्वामी की पत्नी को राज्य सरकार ने वायदा किया था कि शहीद की पत्नी को राज्य सरकार नौकरी देगी यहां प्रधानमंत्री के 30 दिसंबर के दौरे के लिए एमबी ड कॉल शहीद की पत्नी भावना गोस्वामी ने मुख्यमंत्री को प्रार्थना पत्र दिया मुख्यमंत्री ने कहा कि अब यह मामला उनके संज्ञान में आया है जल्द इस पर कार्यवाही की जाएगी

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.