चेतावनी-अनुकृति को दिया टिकट तो दे देंगे सामूहिक इस्तीफा,निर्दलीय भी लड़ाएंगे 1 कैंडीडेट

ख़बर शेयर करें

लैंसडौन एसकेटी डॉट कॉम

भारतीय जनता पार्टी अपने 59 प्रत्याशियों की घोषणा कर चुकी है लेकिन कांग्रेस अभी भी हरक के मामले को फाइनल करने में ही उलझी हुई है। वही लैंसडाउन में कांग्रेस के उन 12 उम्मीदवारों ने जिन्होंने इस सीट पर आवेदन किया है हाईकमान को चेतावनी देते हुए बैकफुट पर खड़ा कर दिया है। इन सभी प्रत्याशियों ने एक मंच पर आकर कहा कि अगर अनुकृति को लैंसडाउन से टिकट दिया गया तो वह है इसका विरोध करेंगे और सभी 12 आवेदक एकजुट होकर किसी एक प्रत्याशी को तन मन धन से चुनाव लड़ आएगे। सभी 12 प्रत्याशियों का कहना है कि इस तरह से अगर कोई हवाई कैंडिडेट आता है तो निश्चित रूप से धरातल पर काम करने वाले कार्यकर्ताओं के मनोबल पर विपरीत असर पड़ता है और वह पार्टी के लिए अपने दिल में रखी गई इज्जत मान सम्मान को भी किनारे लगाने में पीछे नहीं रहता है।

गुरुवार को लैंसडौन विधानसभा के 12 प्रत्याशियों ने बदरीनाथ मार्ग स्थित एक होटल में पत्रकारों से वार्ता की। ब्लॉक प्रमुख दीपक भंडारी ने कहा कि डॉ. हरक सिंह रावत कांग्रेस में शामिल होने के बाद अपनी पुत्रवधु अनुकृति गुसाईं को लैंसडौन से टिकट दिलवाना चाहते हैं। लेकिन, यदि कांग्रेस पार्टी ने उनकी पुत्रवधु को प्रत्याशी के रूप में मैदान में उतारा तो इसका कांग्रेस कार्यकर्त्ता विरोध करेंगे। कहा कि वर्तमान में लैंसडौन विधानसभा से रंजना रावत, ज्योति रौतेला, दीपक भंडारी, राजेंद्र भंडारी, पिंकी नेगी, मनीष सुंदरियाल, गोपाल रावत, रघुवीर बिष्ट, मधु बिष्ट, रश्मि पटवाल, धीरेंद्र प्रताप, रामरतन नेगी कांग्रेस से प्रत्याशी के लिए अपना आवेदन दिया है।

12 सदस्यों में से यदि किसी एक को भी दावेदार बनाया जाता है तो पूरा संगठन उसे जिताने के लिए लगेंगा। लेकिन, नामांकन से चंद दिन पहले पार्टी में शामिल होने वाले किसी भी प्रत्याशी को विधानसभा में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कांग्रेस कमेटी की प्रदेश महामंत्री रंजना रावत ने कहा कि हावा हवाई प्रत्याशी को मैदान में उतारने से धरातल पर कार्य करने वाले कार्यकर्त्ताओं का मनोबल गिरेगा।

कांग्रेस के प्रदेश नेतृत्व को गिरते हुए इन लोगों ने कहा कि कुछ दिन पूर्व रखणीखाल में आयोजित एक कार्यक्रम में खुद पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत व प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने विधानसभा से दावेदारी करने वाले 12 सदस्यों में से एक को प्रत्याशी बनाने की बात कही थी। इसके बाद भी यदि कार्यकर्त्ताओं की अनदेखी की जाती है तो सभी सदस्य कांग्रेस की सदस्यता को त्याग देंगे। इस मौके पर प्रदेश सचिव मनोज रावत, किसान संगठन के जिलाध्यक्ष सुरेंद्र सिंह नेगी, जंगबहादुर सिंह नेगी, होशियार सिंह नेगी आदि मौजूद रहे।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.