मजदूर का बेटा बना कांग्रेस का अध्यक्ष, दिल्ली स्थित मुख्यालय होग़ा निवास

ख़बर शेयर करें

Delhi congress news


Mallikarjun Kharge LIVE: मल्लिकार्जुन खड़गे की आज आधिकारिक तौर पर ताजपोशी हो गई. उन्होंने कहा कि मजदूर का बेटा आज कांग्रेस का अध्यक्ष बना है इसीलिए उनके लिए आज बहुत बड़ा भावुक क्षण है ..

दलित समुदाय से ताल्लुक रखने वाले 80 वर्षीय खड़गे ने 17 अक्टूबर को हुए ऐतिहासिक चुनाव में अपने प्रतिद्वंद्वी 66 वर्षीय थरूर को मात दी थी. पार्टी के 137 साल के इतिहास में छठी बार अध्यक्ष पद के लिए चुनाव हुआ था. 24 साल बाद गांधी परिवार से बाहर का कोई व्यक्ति कांग्रेस का अध्यक्ष बना है. खड़गे को 2024 के आम चुनाव से पहले पार्टी को मजबूत करने के लिए कई चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा.



24 साल बाद गांधी परिवार के बाहर का शख्स बना है
: कांग्रेस के नवनिर्वाचित अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने पार्टी की कमान संभाल ली. कांग्रेस अध्यक्ष पद चुनाव में शशि थरूर को मात देने वाले मल्लिकार्जुन खड़गे ने आज यानी बुधवार की सुबह सोनिया गांधी, राहुल गांधी, कांग्रेस कार्य समिति के सदस्य, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश कांग्रेस कमेटियों के अध्यक्ष और पार्टी के अन्य नेताओं की मौजूदगी में कांग्रेस मुख्यालय में पार्टी अध्यक्ष का पदभार संभाला.

कांग्रेस की कमान संभालने से पहले मल्लिकार्जुन खड़गे ने आज सुबह राजघाट जाकर राष्ट्रपिता महात्मामल्लिकार्जुन खड़गे ने अपने संबोधन में कहा कि आज एक मजदूर का बेटा कांग्रेस का अध्यक्ष बना है. यह मेरे लिए भावुक क्षण है. यह सम्मान देने के लिए आप सबका धन्यवाद. कांग्रेस सभी पुराने अध्यक्षों को याद करते हुए मैं आपको भरोसा दिलाना चाहता हूं कि अपने मेहनत और अनुभव से जो कुछ भी संभव होगा, मैं करूंगा और आपको भी पूरी ताकत के साथ लड़ना होगा. यही मेरी अपील है. आज इस अवसर पर कांग्रेस के करोड़ों कार्यकर्ताओं की तरफ से मैं सोनिया गांधी जी के बहुमूल्य योगदना के लिए आभार व्यक्त करना चाहूंगा

. मुझे याद आता है 15 जनवरी 1998 का दिन, जब बेंगलुरु के हाईस्कूल में आपने अपनी पहली जनसभा में कहा था कि मैं कर्टनाक से राजनीति की शिक्षा ले रही हूं, तब से आपने मेहनत कर कांग्रेस को संभाला है.

केवल सत्ता के लिए राजनीति करने वालों के इस दौर में आपने त्याग की मिसाल कायम की है. गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की. सोनिया गांधी ने अपने संबोधन में खड़गे को बधाई दी और कहा कि मैं आज बड़े दायित्व से मुक्त हो जाऊंगी. उन्होंने कहा कि आपने हमेशा मुझे सहयोग और समर्थन दिया. अब यह जिम्मेदारी खड़गे जी के ऊपर आ गई है. परिवर्तन संसार का नियम है. आज हमारी पार्टी के सामने बहुत सारी चुनौतियां हैं. सबसे बड़ी चुनौती यह है कि आज देश के सामने लोकतांत्रिक मूल्यों के लिए संकट यह पैदा हुआ है, उसका मुकाबला हम सफलतापूर्वक कैसे करें.

आपने जिस तरह से लोकतांत्रिक तरीके से कांग्रेस अध्यक्ष चुना है, मुझे भरोसा है कि उसी तरह पार्टी के सभी कार्यकर्ता और नेता आपस में मिल जुलकर एक ऐसी शक्ति बनेंगे, जो हमारे महान देश के सामने उपस्थित समस्याओं का सफलतापूर्व सामना कर सके.

कांग्रेस के सामने पहले भी संकट आए, मगर पार्टी ने कभी हार नहीं मानी.आज कांग्रेस के सामने कई चुनौतियां हैं, सबसे बड़ी चुनौती यह है कि लोकतांत्रिक मूल्यों के सामने जो संकट पैदा हुआ है,

-मल्लिकार्जुन खड़गे ने आधिकारिक तौर पर कांग्रेस अध्यक्ष का पदभार संभाला. कांग्रेस मुख्यालय में चुनाव का प्रमाण पत्र सौंपा गया.

-कांग्रेस के नवनिर्वाचित अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, पार्टी की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी, सांसद राहुल गांधी और पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय पहुंच चुके हैं. कुछ देर में ही खड़गे कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभालेंगे.

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.