हल्द्वानी पुलिस ने खुद को इंश्योरेंस कंपनी का अधिकारी बताकर 6 लाख की ठगी करने के मामले में किया खुलासा, तीन शातिर गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी में आज बहुउद्देशीय भवन के सभागार में प्रेस वार्ता की गई जिसमें पुलिस के द्वारा हल्द्वानी के युवक से छह लाख की ठगी के मामले में खुलासा किया जिसमें पुलिस के द्वारा मौ0 आदिल सिद्धिकी पुत्र रियासुदीन सिद्धिकी उम्र 29 वर्ष नि0 सी 146 अकबर लाईन ओखला जामिया नगर थाना साहिनबाग दक्षिण पूर्वी दिल्ली, सरफराज आलम पुत्र हबीब अहमद नि0 म0क न0 936 गली न0 12 भजनपुरा थाना शाहदरा दिल्ली पूर्वी उम्र 30 वर्ष,फैजल खान पुत्र जाहिद खान नि0 सी 100 ठोकर न0 8 तैयब मस्जिद के पास अकबर लाईन थाना साहिनबाग दक्षिण पूर्वी दिल्ली उम्र 26 वर्ष को गिरफ्तार किया गया।बता दे कि एसएसपी प्रीति प्रदर्शनी ने बताया कि राहुल शर्मा पुत्र स्वर्गीय प्रीतम शर्मा निवासी देवलचौड़ बंदोबस्ती के द्वारा मामला दर्ज कराया गया है कि उसके पिता के भारतीय एक्सा इंश्योरेंस जो कि 12लाख रुपए का है वो जनवरी 2021 में पूरी हो चुकी थी। तो उसके पिता प्रीतम सिंह द्वारा गूगल के माध्यम से संबंधित इंश्योरेंस कंपनी का मोबाइल सर्च किया गया।

और उस नंबर पर कॉल की गई तो उस नंबर पर दीपक सिंह नामक व्यक्ति के द्वारा बात की गई जिसमें उसने अपने आप को आईआरडीए के सीनियर बताकर मामले में अन्य अभियुक्तों और कथित आईआरडीए डायरेक्टर, टीएस नायक, राकेश लोखंडे आदि बन कर अलग-अलग नंबरों से बात की और इंश्योरेंस के पैसे रिफंड किए जाने के एवज में हाईकोर्ट रिचार्ज की मांग की इसी दौरान अप्रैल के महीने में राहुल शर्मा के पिता की मृत्यु हो गई तो राहुल शर्मा के द्वारा भी उन नंबरों पर बात करने के बाद उनके झांसे में आ गए और करीब 6 लाख रुपए अलग-अलग खाते (फैजल खान , रितेश कुमार , अंजूबी हरबलानी ) में अपने बैंक एचडीएफसी के खाते से ट्रांसफर कर दी लेकिन जब राहुल शर्मा को उनके साथ ठगी होने का एहसास हुआ तो उन्होंने देना करते हुए थाने में गत दिवस 8 जुलाई को उपरोक्त आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।

ताजा खबरों के लिए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े

इस मामले की विवेचना एस आई संजीत राठौड़ को सौंप दी गईजिनके जिनके द्वारा पुलिस टीम के लगाए गए आरोप में इस्तेमाल किए गए मोबाइल नंबरों की लोकेशन के आधार पर उपरोक्त आरोपियों को लक्ष्मी नगर दिल्ली मेट्रो स्टेशन के पास डी ब्लॉक स्थित बिल्डिंग डीमें जिनके द्वारा पुलिस टीम के साथ अभियोग में प्रयोग किये गया मोबाईल नम्बरों की लोकेशन के आधार पर आरोपियों को लक्ष्मी नगर दिल्ली मैट्रो स्टेशन के पास डी ब्लाक स्थित बिल्डिंग डी – 125 /ए की तीसरी मंजिल से गत 4 अगस्त को देर रात 11:40 पर ठगी में इस्तेमाल किए गए लैपटॉप मोबाइल फोन एटीएम कार्ड इंश्योरेंस कस्टमर डिटेल और ठगी से प्राप्त की गई ₹15800 की नकदी के साथ गिरफ्तार किया इस मामले में अन्य आरोपी फिरोज खान निवासी गांधी नगर दिल्ली एवं आदर्श कुमार शुक्ला उपरोक्त को वंचित किया गया।

और इस मामले में जिन खातों में (रितेश कुमार एव अंजूबी हरबलानी) पैसा ट्रान्सफर हुआ है उनकी भी जांच करायी जा रही है । साथ ही जो इन्श्योरेंस कस्टमर डिटेल आरोपियों से प्राप्त हुई है। वह किस तरीके से और कैसे इनको मिली इस मामले में संबंधित कंपनियों से पूछताछ की जाएगी और आरोपियों द्वारा उत्तराखंड के अलावा यूपी पंजाब हरियाणा आदि में ठगी की गई है जिस के संबंध में जानकारी प्राप्त की जा रही है आरोपियों को कोर्ट में पेश किया जाएगा बता दे कि एसएसपी प्रीति प्रदर्शनी के द्वारा पुलिस टीम के उत्साहवर्धन के लिए इनाम के तौर पर 1हजार रुपए देने की घोषणा की गई है।

बता दें कि पुलिस टीम को आरोपी फैजल सिद्धिकी के पास से धोखाधड़ी में इस्तेमाल किये 3 कीपेड मोबाईल फोन , और धोखाधड़ी से कमाए 7200/- रू0 नगदी, आरोपी सरफराज आलम के पास से धोखाधडी में  इस्तेमाल 3 कीपेड मोबाईल फोन , और धोखाधड़ी से कमाए 5000/- रू0 नगदी आरोपी फैजल खान (खाता धारक) के पास से 3600/- रू0 नगद प्राप्त किए हैं और इन आरोपियों की ऑफिस से एक एएसयूएस (asus)कम्पनी का लेपटॉप के साथ चार्जर,एक लेनेवो(lenovo) छोटा लैपटॉप और धोखाधड़ी किये जाने वाले हिसाब- किताब के लिए रखे गये एक छोटा नोट पैड एवं 4 बड़े रजिस्टर,इन्श्योरेंस कस्टमर डिटेल के करीब 20-20 वर्कीय 10 अदद बन्च (बण्डल),06 अदद अलग – अलग खातों के एटीएम कार्ड पुलिस टीम द्वारा बरामद किए गए बता दें कि पुलिस टीम में एसआई संजीत राठौड़ हेड कांस्टेबल पुलिस एसओजी दीपक अरोरा कॉन्स्टेबल एसओजी त्रिलोक सिंह कॉन्स्टेबल एसओजी भानु प्रताप कॉन्स्टेबल सुंदर रौतेला थाना हल्द्वानी मौजूद थे।

Report by-Ankur saxena

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *