UKSSSC की और परीक्षा में धांधली का खुलासा, पेन ड्राइव से बांटा गया था पेपर

ख़बर शेयर करें


यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले में एसटीएफ ने एक और खुलासा कर दिया है। एसटीएफ ने सचिवालय रक्षक भर्ती में हुए घोटाले का पर्दाफाश कर दिया है। एसटीएफ ने इस मामले में एक और शख्स को गिरफ्तार किया है। इस तरह देखा जाए तो एसटीएफ ने अबतक कुल 26 लोगों की गिरफ्तारी कर ली है।


दरअसल पुलिस मुख्यालय से प्राप्त जांच के क्रम में सचिवालय रक्षक भर्ती मामले में थाना रायपुर में एसटीएफ द्वारा मुकदमा दर्ज कराया था। एसटीएफ की टेक्निकल टीम को आयोग में गहन जांच के बाद इलेक्ट्रॉनिक एविडेंस मिले।

इन सुरागों की मदद से एसटीएफ यूपी के बाराबंकी निवासी प्रदीप पाल तक पहुंची। प्रदीप भी उसी RIMS कंपनी का कर्मचारी था जहां से स्नातक स्तरीय परीक्षा के पेपर लीक हुए।


प्रदीप ने पेन ड्राइव के जरिए पेपर को कॉपी किया और उसे नकल माफिया के जरिए अभ्यर्थियों को बेच दिया। इस पूरे खेल में लाखों रुपए का लेन देन हुआ है।


अब जहां प्रदीप पाल एसटीएफ की गिरफ्त में है तो वहीं एसटीएफ ने गलत तरीके से पास हुए अभ्यर्थियों की पहचान भी कर ली है। एसटीएफ ने ऐसे अभ्यर्थियों से अपील की है कि वो खुद ही आकर अपना बयान दर्ज करा दें वरना उनके खिलाफ कार्रवाई तय है।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.