भाजपा ने लोहे को काटने ले लिए लोहे को ही किया आगे , फडणवीस नहीं बल्कि एकनाथ शिंदे हीहोंगे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री

ख़बर शेयर करें

मुंबई एसकेटी डॉट कॉम

भारतीय जनता पार्टी ने शिवसेना के कांटे को शिवसेना के ही बागी द्वारा निकालने का खेल खेल दिया है. महाराष्ट्र के नए राजनीतिक घटनाक्रम के अनुसार भाजपा ने सेना के बागी गुट के नेता शिंदे को प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाकर सभी को आश्चर्य में डाल दिया है.

अमूमन यह सोचा जा रहा था कि भाजपा के देवेंद्र फडणवीस महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री होंगे लेकिन नरेंद्र फडणवीस ने चाणक्य नीति खेलते हुए शिवसेना के ही बागी एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बिठा दिया माना जा रहा है कि अब वह एकनाथ शिंदे के कंधे पर धनुष रखकर शिव सेना का तीर उन्हीं पर चलाएंगे. एकनाथ के माध्यम से कई ऐसे फैसले लेंगे जो जो शिवसेना को तीर की तरह चुभेंगे.

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात के बाद देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री फडणवीस ने एलान किया कि एकनाथ शिंदे महाराष्ट्र के सीएम पद की शपथ लेंगे. इस दौरान देवेंद्र फडणवीस ने बताया कि वो सरकार से बाहर रहेंगे.

देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि जनता ने महाविकास अघाड़ी को बहुमत नहीं दिया था. चुनाव के बाद बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी थी. बीजेपी-शिवसेना ने गठबंधन में चुनाव लड़ा था, लेकिन शिवसेना ने कांग्रेस और एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनाई. इस दौराना शिवसेना ने बाला साहेब ठाकरे के विचारों को भी ताक पर रख दिया.

इस दौरान फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ कि सरकार के दो-दो मंत्री जेल में हैं. इससे पहले ऐसा कभी नहीं हुआ. बालासाहेब ने हमेशा दाउद का विरोध किया, लेकिन उद्धव सरकार का एक मंत्री दाउद से जुड़ा हुआ है. जेल में जाने के बाद भी उसे मंत्री पद से हटाया नहीं गया. ये बाला साहेब का अपमान है. आखिरी समय में संभाजी नगर किया गया है.

इस दौरान एकनाथ शिंदे ने बताया कि हम महाराष्ट्र के विकास के लिए एकसाथ आए हैं. आज शाम साढ़े सात बजे सिर्फ शिंदे ही शपथ लेंगे. हम लोगों को महाविकास अघाड़ी सरकार में काम करने में समस्याएं आ रही थीं. इस बारे में हमने उद्धव ठाकरे को बताया था. हमने अपना पक्ष समझाने की कोशिश की थी. बीजेपी के साथ हमारा नेचुरल गठबंधन था. हम लोग बाला साहेब के विचारों को लेकर आगे बढ़े तो सरकार की ओर से आखिरी में हिंदुत्व को लेकर कुछ फैसले लिए गए.

एकनाथ शिंदे कहा कि मैं पीएम मोदी और अमित शाह का शुक्रगुजार हूं, फडणवीस मंत्री नहीं बनेंगे. बीजेपी ने बड़ी पार्टी होते हुए भी मुझे मुख्यमंत्री बनाया है. बीजेपी ने अपना बड़ा दिल दिखाया है. महाराष्ट्र में एक मजबूत सरकार आने वाले दिनों में देखने को मिलेगी. जिस तरह केंद्र सरकार महाराष्ट्र की मदद करेगी, उससे महाराष्ट्र का विकास तेजी से हो पाएगा. ये सरकार लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरने का काम करेगी. उन्होंने देवेंद्र फडणवीस का आभार भी जताया.

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.