10 बाऱ लागातार आजम के कब्जे से भाजपा ने आखिर छीन ही लिया रामपुर, आकाश ने खिलाया कमल

ख़बर शेयर करें

रामपुर एसकेटी डॉटकॉम

सरकार भाजपा ने रामपुर में कमल खिला दिया भाजपा के आकाश सक्सेना ने रामपुर से सपा के प्रत्याशी असीम राजा को 30,000 से अधिक मतों से हरा दिया रामपुर में भाजपा की पहली जीत पर कार्यकर्ताओं में गजब का उत्साह है और वह मुख्यमंत्री आदित्यनाथ के जयकारे लगा रहे हैं. 1952 से लेके 2022 तक रामपुर में भाजपा एक भी चुनाव नहीं जीत पाई थी

भारतीय जनता पार्टी ने विधानसभा उपचुनाव में रामपुर सीट भी जीत ली। यहां पहली बार भाजपा की सरकार बनी है। सपा प्रत्‍याशी आसिम राजा को भाजपा के आकाश सक्‍सेना ने 33702 वोटों से सपा को हरा कर रामपुर में कमल ख‍िलाया।

आजम खां की व‍िधानसभा सदस्‍यता रद होने के बाद खाली हुई थी रामपुर सीट


रामपुर विधानसभा सीट पर लंबे समय से आजम खां का दबदबा कायम था। वह 10 बार इस सीट पर विधायक चुने गए, जबकि इस सीट पर भाजपा का कमल कभी नहीं खिल सका। भड़काऊ भाषण मामले में तीन साल की सजा होने के बाद आजम खां की व‍िधानसभा सदस्‍यता रद हुई तो यहां उपचुनाव हुए। जिसमें भाजपा ने आकाश सक्सेना को प्रत्याशी बनाया। वह इसी साल हुए विधानसभा चुनाव में भी भाजपा प्रत्याशी थे, लेकिन उस समय हार गए थे। उपचुनाव में वह भाजपा का कमल खिलाने में सफलरहे.


समाजवादी पार्टी ने आसिम राजा को प्रत्याशी बनाया। वह आजम खां के करीबी है। इसी साल हुए लोकसभा उपचुनाव में भी वह सपा प्रत्याशी रहे थे, लेकिन उस चुनाव में भी हार गए थे और इसमें भी हार गए। आजम खां ने उन्हें चुनाव जिताने के लिए लगातार जनसभाएं भी कीं। आकाश सक्सेना के पिता शिव बहादुर सक्सेना स्वार टांडा विधानसभा क्षेत्र से लगातार चार बार विधायक रहे हैं और प्रदेश सरकार में मंत्री भी रहे।

रामपुर शहर में भाजपा की पहली बार जीत से भाजपाई गदगद है। एक दूसरे को मुबारकबाद दे रहे हैं और मिठाई बांट रहे हैं। शहर में जश्न का माहौल है।

Ad Ad Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.