11 साल की बेटी करती थी क्लास के लड़कों से हंसकर बातें. मां-बाप ने जिंदा नहर में फेंका

ख़बर शेयर करें

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। जहां एक माता-पिता ने अपनी मासूम बच्ची को जिंदा नहर में धक्का दे दिया। वहीं, पुलिस नहर में सर्च ऑपरेशन चलाकर बच्ची को ढूंढ़ रही है। बच्ची का शव अभी तक बरामद नहीं हुआ। पुलिस माता-पिता को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। पूछताछ में मां-बाप ने बताया कि उनकी बेटी बिगड़ गई थी और लड़कों से हंसकर बात करती थी।

मामला है कि
ताजा मामला जिले के थाना गंगानगर क्षेत्र की है। यहां बबलू नामक शख्स जो बैंकों के रिकवरी एजेंट के रूप में काम करता था। उसकी 11 साल की मासूम बच्ची थी। जिसका नाम चंचल था। कुछ दिन पहले बबलू और उसकी पत्नी ने चंचल के गायब होने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने छानबीन की तो पता चला कि चंचल को उसके मां-बाप ने मारा है। पुलिस ने माता-पिता से पूछताछ की तो उन्होंने कुछ नहीं बताया। वहीं, पुलिस ने जब सख्ती से पूछा तो मां-बाप ने पुलिस के सामने कबूल कर लिया कि उन्होंने ही अपनी बेटी की जान ली है।

पिता बबलू ने कहा-उसकी बेटी बिगड़ गई थी
मृतक के पिता बबलू ने बताया कि उनकी 11 साल की बेटी बिगड़ गई थी। वह लड़कों से हंसकर बातें करती थी और गलत इशारे करती थी। जिसको लेकर कई बार समझाया भी गया, लेकिन जब वह नहीं मानी तो उन्होंने गंग नहर पर ले जाकर उसे जिंदा ही नहर में धक्का दे दिया। हत्या की इस वारदात को अंजाम देने में मां-बाप दोनों ही शामिल थे। जिसके बाद पुलिस नहर में बच्चे के शव को तलाश रही है। वहीं, पुलिस ने इस मामले में आरोपियों को हिरासत में भी ले लिया है।

सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है
एसपी देहात केशव कुमार मिश्रा ने बताया कि गंगा नहर क्षेत्र निवासी बबलू और उनकी पत्नी रूबी के द्वारा तहरीर दी गई थी कि उनकी बच्ची को बर्गर खिलाने लेकर गए थे, जहां से वह गायब हो गई। तहरीर के बाद जब इलाके के सीसीटीवी फुटेज को खंगाला गया तो वह कहीं भी नजर नहीं आई। इसके बाद मां-बाप से अलग-अलग पूछताछ की गई तो दोनों के जवाब में विरोधाभास नजर आया। सख्ती से पूछने पर उन्होंने बताया कि 1 तारीख को उन्होंने अपनी बेटी को गंगा नहर में फेंक दिया। मृतका की लाश बरामद करने के लिए टीमें लगाई गई हैं।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.