बच्चों में भिक्षावृति एवं नाशखोरी पर वरिष्ठ नागरिकों ने इस तरह जताई चिंता#seniorcitizen

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी एसकेटी डॉटकॉम

वरिष्ठ नागरिकों की जन कल्याण समिति की बैठक में भविष्य के नागरिकों यानि बच्चों में भिक्षावृत्ति में नशाखोरी बढ़ने पर दुख व्यक्त किया सरकार से मांग की कि इस बीमारी को जड़ से काटने के पुख्ता इंतजाम किए जाएं ताकि भविष्य की पौध खराब ना हो. इस संबंध में समिति वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से मिलकर कार्रवाई के लिए सख्त कदम उठाने की मांग करेंगे

वरिष्ठ नागरिक जनकल्याण समिति की मासिक बैठक आज समिति सभागार पं. गोविन्द बल्लभ पंत पुस्तकालय में समिति अध्यक्ष भुवन भाष्कर पांडे की अध्यक्षता में संपन्न हुई।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए श्री पांडे ने कहा कि हम सभी के सहयोग से समिति अपने कार्यक्रमों में सफल हो रही है। उन्होंने आज समिति की सदस्यता लेने वाले सभी सदस्यों का स्वागत करते हुए अनुरोध किया कि वह अधिक से अधिक संख्या में बैठकों में भाग लेकर अपने अमूल्य सुझाव देंगे।

बैठक में सदस्यों द्वारा बैठक का दिन बदलने पर एक राय से मांग रखी गई कि शनिवार का दिन ही बैठक के लिए पूर्व की भांति ही रखा जाए। क्योंकि इस दिन सभी वर्ग के लोग बैठक में शिरकत कर सकते हैं।

सदस्यों द्वारा हल्द्वानी शहर में गरीब बच्चों की बढ़ रही भिक्षावृत्ति तथा नशाखोरी पर चिंता जताई गई। साथ ही इस पर अंकुश के लिए वृहद स्तर पर कार्य योजना तैयार के लिए शासन प्रशासन से मुलाकात का सुझाव दिया गया। अध्यक्ष ने आगामी माह में ही इस विषय पर जिलाधिकारी व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से मिलकर वार्ता करने पर सहमति व्यक्त की।

साथ ही शहर में आगामी माह श्री हरिशरणम् जन के तत्वावधान में होने वाले भव्य श्रीमद् भागवत कथा में सक्रिय रूप से सहभागिता निभाने पर भी सहमति जताई गई। समिति के साथ आज आजीवन सदस्य नवीन चन्द्र कांडपाल, सुरेश चन्द्र कांडपाल, जेबी पांडे, ख्याली दत्त कांडपाल, उमेश चन्द्र पाटनी, गोपाल चन्द्र जोशी, सुधीर चन्द्र पंत, विजय कुमार भट्ट के अलावा एड. जीएस किरौला वार्षिक सदस्य के रूप में शामिल हुए। संचालन समिति के महामंत्री पदमा दत्त पांडे ने किया। बैठक में उपाध्यक्ष श्रीमती भगवती बिष्ट, संयुक्त सचिव दिनेश चन्द्र पंतोला, आय-व्यय निरीक्षक आनन्द सिंह भाकुनी सहित कार्यकारिणी के अलावा अन्य सदस्यों ने हिस्सा लिया।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.