ऑनलाईन सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, लड़कियों की लग रही थी बोली

ख़बर शेयर करें


देश में एक बार फिर से बुलीबाई जैसा मामला सामने आया है। यहां भी रोजाना ऑनलाइन सैकड़ों लड़कियों की बोली लगाकर अस्मत लुटाई जाती थी। अब तक सैकड़ों लड़कियों की जिंदगी इस ऑनलाइन देह व्यापार में बर्बाद हो चुकी है।


मामला हैदराबाद से जुड़ा है, जहां 850 पीड़िताओं ने ऑनलाइन देह व्यापार की शिकायत की तो पुलिस के भी होश उड़ गए। मामले की पड़ताल शुरू हुई तो शर्मशार कर देने वाली ऑनलाइन गर्ल्स बुकिंग का पर्दाफाश हो गया।


साइबराबाद पुलिस ने मंगलवार को कहा कि उसने ऑनलाइन वेश्यावृत्ति को बढ़ावा देने में शामिल होने के आरोप में सात लोगों को गिरफ्तार किया है। यह मामला ‘‘850 पीड़िताओं’’ से संबंधित है।


मीडिया में प्रकाशित पुलिस की विज्ञप्ति में बताया गया है कि जिन आरोपियों पर अनैतिक व्यापार (रोकथाम) अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है, वो देश के विभिन्न स्थानों से महिलाओं की खरीद करते थे, वेबसाइट पर उनके विज्ञापन डालते थे, पीड़ितों तक पहुंचने में ग्राहकों की मदद करते थे और अलग-अलग होटलों में देह व्यापार कराते थे।


इन राज्यों से आती थीं लड़कियां
पुलिस की पड़ताल में यह बात सामने आई है कि देह व्यापार में जिन लड़कियों को उतारा जाता था, उनमें से अधिकांश पीड़ित महिलाएं आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, पश्चिम बंगाल और मुंबई की हैं। पुलिस की विज्ञप्ति में कहा गया है कि गिरफ्तारियां साइबराबाद पुलिस की मानव तस्करी रोधी इकाई (एएचटीयू) द्वारा की गईं।


विज्ञप्ति के अनुसार, पिछले चार दिनों के दौरान अलग-अलग तारीखों में गिरफ्तारियां की गईं। पुलिस की इस कार्रवाई से पूरे राज्य में हड़कंप मच गया है। देह व्यापार कराने वालों का पूरा नेटवर्क खंगाला जा रहा है।


हाई प्रोफाइल लड़कियों की लगती थी इंटरनेट पर बोली
हैदराबाद पुलिस के अनुसार ऑनलाइन सामान्य लड़कियों से लेकर हाई प्रोफाइल, कालेज गर्ल और हाउस वाइफ तक की बोली लगती थी। आरोपी लड़कियों और महिलाओं की फोटो इंटरनेट पर डालते थे, इसके बाद देह व्यापार का लुत्फ उठाने वाले शौकीनों द्वारा उनकी बुकिंग की जाती थी। शौकीनों के पते पर लड़कियों को भेज दिया जाता था।


देह व्यापार में उतारी गई लड़कियों को तरहर-तरह के सब्जबाग दिखा कर उनकी अस्मत को बेचकर मोटी कमाई की जा रही थी। ऐसे ही मामला इससे पहले बुलीबाई एप के जरिये किए जाने के एक मामला देश में सामने आया था।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.