मां ने अर्पित के साथ बेटी श्वेता को आपत्तिजनक हालत में देखा, इसलिए कर दी हत्या

ख़बर शेयर करें

रांची: रांची पुलिस ने पंडरा थाना क्षेत्र के जनक नगर में हुए दोहरे (भाई-बहन) हत्या मामले का खुलासा करते हुए मुख्य आरोपित अर्पित अर्णव को गिरफ्तार किया है।

आरोपित रातू थाना के आनन्द मई कॉलोनी का रहने वाला है। इसके पास से पुलिस ने एक मोबाइल फोन और घटना को अंजाम देने के वक्त पहना हुआ खून लगा कपड़ा बरामद किया है।

सिटी SP अंशुमान कुमार ने सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि गत 18 जून को ओझा मार्केट रोड नंबर चार जनक नगर में घर में रात को दोहरे हत्याकांड की घटना घटी।

एसपी ने बताया कि इस घटना में घर में घुसकर बहन श्वेता सिंह और भाई प्रवीण कुमार सिंह उर्फ ओम की चाकू एवं हथौडा से हमला कर हत्या कर दी गयी थी।

जबकि मामले में मृत बच्चों की मां चंदा देवी गंभीर रूप से घायल हो गई थी। मामले को लेकर चंदा देवी के बयान पर प्राथमिकी (FIR) दर्ज की गई थी।

श्वेता सिंह का प्रेम प्रसंग अर्पित नाम के लड़के से था

SP ने बताया कि घटना का खुलासा करने और अपराधियों का गिरफ्तारी के लिए विशेष अनुसंधान दल (SIT) का गठन किया गया था।

अनुसंधान के क्रम में SIT के द्वारा घटनास्थल एवं आसपास के लोगों से पूछताछ किया गया। इसके बाद तकनीकी शाखा के माध्यम से पता चला कि मृतका श्वेता सिंह का प्रेम प्रसंग अर्पित नाम के लड़के से था और वे हमेशा रात में मिलने श्वेता सिंह के छत पर मिलता था।

बाद में लड़की की मां चन्दा देवी को पता चला कि श्वेता सिंह अर्पित नाम के लड़का से प्यार करती है। इस पर उसकी मां चन्दा देवी मना करने लगी। इस पर लड़की नहीं मानी और छुप-छुपके अर्पित से मिलना जारी रखा।

चंदा देवी के गर्दन पर 3-4 बार चाकू से वार किया

SP ने बताया कि वारदात के दिन रात को अर्पित लड़की से मिलने उसके घर गया और घर के पीछे की ओर से चढ़ कर छत पर गया। उसके बाद सुबह साढ़े तीन से चार बजे दोनों सीढ़ी के नीचे थे।

इसी बीच श्वेता की मां चन्दा देवी (Chanda Devi) उठ गई और दरवाजा खोलकर स्कूटी निकाली। इसके बाद जब वह अन्दर घुस रही थी तो अर्पित और श्वेता दोनों को आपत्तिजनक स्थिति में देखकर लड़का को पकड़ कर मारपीट करने लगी।

इस पर अर्पित के द्वारा सामने सब्जी काटने वाले चाकू से श्वेता की मां चंदा देवी के गर्दन पर 3-4 बार चाकू से वार किया।

बाद में चाकू के टूट जाने के बाद फीज के ऊपर रखा हथौड़ा से चन्दा देवी के सिर पर 3-4 बार मार दिया। इस पर आवाज सुन कर श्वेता का छोटा भाई प्रवीण सिंह (Praveen Singh) उर्फ ओम उठ गया और अपनी मां को बचाने के लिए आया तो उसे भी अर्पित ने तीन-चारह थौड़ा सिर पर मार दिया।

जिस पर ओम वही पर गिर गया। ये सब देख श्वेता सिंह विरोध करने लगी तो अर्पित के द्वारा उसको भी तीन-चार बार हथौड़ा से सिर पर मार दिया, जिससे श्वेता वही पर गिर गई।

उसके बाद अर्पित छत से होते हुए घर के पीछे से भाग गया। उसके बाद अर्पित ट्रेन से बिलासपुर, विशाखापट्टनम, भागलपुर, पटना और उसके बाद रांची(Ranchi) आने पर पकड़ा गया।

एम्स में इलाजरत है चंदा देवी

घटना में चंदा देवी गंभीर अवस्था में रिम्स (rims) में भर्ती कराया गया, जहां का इलाज चल रहा है। महिला के पति संजीव सिंह विदेश में रहते हैं। घटना की जानकारी मिलने के बाद 19 जून को रांची पहुंचे और दोनों बच्चों का अंतिम संस्कार किया।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.