नेताओं की बयानबाजी की भेट चढ़ा कन्हैया, हुआ अंतिम संस्कार, पत्नी बोली आरोपियों को दो फांसी की सजा

ख़बर शेयर करें

उदयपुर राजस्थान एसकेटी डॉट कॉम

नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट डालने के बाद अपनी जान गवा चुके कन्हैया लाल का अंतिम संस्कार कर दिया गया. कन्हैया लाल की पत्नी और बहन ने कहा कि हत्या करने वाले दोनों लोगों को फांसी की सजा देनी चाहिए. उन्होंने दिल्ली सरकार पर भरोसा जताते हुए कहा कि वह उन्हें न्याय देगी.

ऊपर मृतक कन्हैया की फाइल फोटो नीचे भाजपा की फायर ब्रांड नेत्री नूपुर शर्मा

कर्फ्यू के बाद भी उदयपुर के सबसे बड़े श्मशान घाट पर हजारों की संख्या में लोगों ने कन्हैया को अंतिम विदाई दी. कन्हैया की पत्नी जसोदा साहू ने कहा कि वह पिछले कई दिनों से डरे हुए दिख रहे थे लेकिन किसी को कुछ बताते नहीं थे उनका सुहाग उजड़ गया और अब उनके की देखभाल कौन करेगा.

कन्हैया के अंतिम संस्कार में कर्फ्यू के बाद उमड़ी इतनी भीड़

देर रात्रि परिवार और प्रशासन के बीच हुए समझौते के बाद सुबह डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया उसके बाद पार्थिव शरीर घर लाया गया जहां पहले से ही हजारों लोग जुटे हुए थे. किसी भी प्रकार का अब बताओ ना हो इसके लिए प्रशासन ने भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात किया हुआ था. सभी लोग कन्हैया के हत्यारों को फांसी दो के नारे लगा रहे थे.

दोनों आरोपी मोहम्मद गौस और रियाज अंसारी

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का कहना है कि वह इस तरह की किसी भी अपराधिक घटना की घोर निंदा करते हैं अपराधियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी अपराधियों के खिलाफ अनलॉफुली एक्टिविटी (uapa) के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है इसके अलावा कई अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है. घटना के 4 घंटे बाद दरिंदों को गिरफ्तार किया गया.. संभवत मुख्यमंत्री सभी दलों की बैठक बुलाई है उसके बाद कानून व्यवस्था की स्थिति पर समीक्षा करेंगे. उन्होंने आरोपियों के खिलाफ किसी भी तरह की कोताही नवरत्न के दिए हैं.

मृतक कन्हैया की पत्नी का रो रो कर बुरा हाल है उन्होंने हत्यारों को फांसी की सजा देने की मांग की है

केरल के राज्यपाल मोहम्मद खान ने कहा कि हमारे बच्चों को ईशनिंदा के बाद सिर कलम करने की बात सिखाई जा रही है मुस्लिम कानून बुराई से नहीं आया है और मदरसों में सिर कलम करने की बात सिखाई जा रही है जो कि भी खतरनाक है.

सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौर ने कहा कि यह एक मामूली हत्या नहीं बल्कि आतंकी घटना है. नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि प्रदेश में ऐसी घटनाएं हो रही हैं जिससे यहां कानून नाम की कोई चीज नहीं रह गई है.

गृह मंत्रालय की ओर से इसे राष्ट्रीय जांच एजेंसी को सौंप दिया गया है यह भी पता लगाने को कहा गया है कि कहीं इस घटना का अंतरराष्ट्रीय संबंध तो नहीं है

राज्य सरकार ने उदयपुर मे कर्फ्यू लगा दिया गया है अगले 24 घंटों तक इंटरनेट सेवा बंद कर दी है

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मैया के गले के आसपास 8-10 तथा कुल मिलाकर 3 दर्जन से अधिक घाव के निशान है

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.