यहां मनचलों से बचने से लिए चलती ट्रेन से कूदी छात्रा

ख़बर शेयर करें

मुजफ्फरपुर। शहर में एनएच पर छिनतई व लूटपाट करने वाले अपराधियों के गिरोह ने अपना-अपना इलाका बांट रखा है। कोई दूसरे के इलाके में दखल नहीं देते हैं। इन गिरोहों ने संगठित रूप ले लिया है, जिसके अपने अध्यक्ष और सचिव भी हैं। अध्यक्ष और सचिव लूटपाट में शामिल नहीं होता। उसका काम पुलिस के हत्थे चढ़ने पर गिरोह के सदस्य को मदद पहुंचाना होता है। गिरोह में तेज गति में बाइक लहराकर भाग निकलने में माहिर लड़के की बड़ी पूछ है। लूट में उसे अधिक हिस्सा मिलता है।

अहियापुर इलाके में इन दिनों महाकाल नाम का गिरोह आतंक मचाए हुए है। कांटी में बैरिया बस स्टैंड के पीछे लीची गाछी में स्मैक के अड्डे पर जमावड़ा लगाने वाले सुट्टा गैंग का आतंक है। बोचहां में ककरा चक और सरवानी चक इलाके का धप्पा गैंग दरभंगा फोरलेन इलाके में लगातार लूटपाट कर रहा है। इधर, सदर में माही तो मनियारी में धर्मेंद्र गिरोह का खौफ है। पुलिस अधिकारी इन गिरोहों से वाकिफ हैं और गिरफ्तारी के लिए छापेमारी भी की जा रही है। लेकिन, इन शातिरों के ठिकानों पर पुलिस की दबिश से पहले ही सूचना पहुंच जा रही है। महाकाल गैंग के अध्यक्ष और सचिव का ठिकाना मेडिकल कॉलेज के पीछे और आवेरब्रिज के पास है। रात आठ बजे शातिरों का जमावड़ा लगता है। बखरी से बाड़ा जगन्नाथ, नाजिरपुर, पटियासा, दादरपुल, मेडिकल ओवरब्रिज तक इस गैंग के शातिर मोबाइल, पर्स छिनतई और लूटपाट को अंजाम दे रहे हैं।

संगमघाट से लेकर सदातपुर मोड़ और पटियासा तक फोरलेन पर महाकाल गैंग का सीनियर ग्रुप वारदात को अंजाम देता है। बोचहां का धप्पा गैंग पटियासा से लेकर मैठी टोल प्लाजा तक पीछा कर वारदात को अंजाम दे रहा है। इस गैंग में बोचहां व हथौड़ी थाना इलाके के अलग-अलग गांव के 30 से अधिक शातिर हैं। सदर व ब्रह्मपुरा इलाके में आर्यन गैंग कुख्यात है। इस गैंग का अपराधी बाइक से पीछा कर पहले गोली मारता है, उसके बाद लूटता है। सदर इलाके में माही गैंग के जूनियर शातिर झपटमारी करते हैं, जबकि इनसे सीनियर अपराधी बैंक और एटीएम वैन लूट तक को अंजाम दे रहे हैं। यह गैंग हाजीपुर रोड में तुर्की तक और तुर्की-सरैया रोड में भी दबिश डालता है।

माधोपुर से बसौली, आगानगर, रामचंद्रा तक का गैंग एनएच 20 पर कच्चीपक्की से लेकर शेरपुर डिघरा और मनियारी में दबिश डालता है। गैंग का शातिर धर्मेंद्र इन दिनों जेल से छूटकर निकला है, जिसके बाद वारदात बढ़ गई है। केरमा रोड में विधायक के करीबी से इसी गैंग ने लूट की थी। लूटे गये मोबाइल के साथ गैंग का एक शातिर पकड़ा गया है।

पूछताछ में 20 से अधिक किए गए चिह्नित

मुजफ्फरपुर एसएसपी जयंतकांत ने बताया कि अहियापुर थाना क्षेत्र में महाकाल गैंग की सक्रियता की जानकारी हुई है। बीते दो दिनों के अंदर सात शातिरों को पकड़ा गया है, जिनसे पूछताछ में गैंग के 20 से अधिक शातिर चिह्नित हुए हैं। बोचहां के गैंग के पांच शातिरों को पकड़ा गया है। कांटी गैंग के भी कई अपराधियों को जेल भेजा गया है। समस्तीपुर के बंगाली टोला के शूटर की गिरफ्तारी के लिए कई बार छापेमारी हो चुकी है। कुढ़नी इलाके में हुई लूट का मोबाइल बरामद कर लिया गया है। एक शातिर भी धराया है, जिससे पूछताछ कर आगे की कार्रवाई व छापेमारी चल रही है।

कांटी का गैंग दूसरे जिले से भी बुलाता है लुटेरों को

कांटी का सुट्टा गैंग लूट की बड़ी वारदात और सुपारी कीलिंग के लिए दूसरे जिले से भी शातिर शूटर को बुलाता है। इस गैंग के संपर्क में समस्तीपुर बंगाली टोला के कई शूटर हैं। हाल ही में एक मछली व्यवसायी सह प्रॉपर्टी डीलर की हत्या के लिए समस्तीपुर बंगाली टोला के कीलर गैंग को कांटी बुलाया गया था।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.