इंटरनेशनल बॉक्सर के साथ दहेज उत्पीड़न को लेकर की मारपीट ,इन पर हुआ मुकदमा दर्ज

ख़बर शेयर करें

आज के समय में भी दहेज उत्पीड़न के मामले दिन पर दिन बढ़ते जा रहे हैं जहां पर देश में दहेज को एक कानूनी अपराध घोषित कर दिया गया है लेकिन इसके बावजूद भी लोगों के द्वारा दहेज उत्पीड़न के मामले सामने आते हैं कि ऐसा ही मामला इंटरनेशनल बॉक्सर के साथ गए दहेज उत्पीड़न को लेकर का सामने आ रहा है बता दे इंटरनेशनल बॉक्सर प्रियंका चौधरी ने पति और सास-ससुर के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का आरोप लगाया है। उनका आरोप है कि ससुरालियों ने 50 लाख रुपये और स्कॉर्पियो की मांग की है। मांग पूरी नहीं होने पर प्रताड़ित करने के आरोप लगाया है। उन्होंने पुलिस से शिकायत कर मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

काशीपुर आर्यनगर कॉलोनी निवासी अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर प्रियंका चौधरी सेवानिवृत्त पुलिस इंस्पेक्टर विजय सिंह की पुत्री हैं। शादी डॉट काम के माध्यम से उनका रिश्ता जड़ौदा कला, नजफगढ़, नई दिल्ली निवासी हाईकोर्ट के अधिवक्ता संदीप लांबा के साथ हुआ था। ससुरालवालों की रजामंदी पर 8 जून 2019 को उनका विवाह काशीपुर के एक रिजॉर्ट में हुआ।शादी से पहले ही उसने अपनी नौकरी, खेलने और अन्य आदतों के बारे में संदीप को बता दिया था। तब उनका कहना था कि उसके खेलते रहने से उन्हें कोई आपत्ति नहीं है। शादी में परिवार वालों ने 40 लाख रुपये खर्च किए थे। विवाह के बाद पति संदीप लांबा, ससुर जगदीश प्रसाद लांबा और सास कमला लांबा ने दहेज में 50 लाख रुपये और स्कॉर्पियो की मांग को लेकर उत्पीड़न शुरू कर दिया।

आरोप है कि पति ने उसके खेल में भी अड़चन डालने का प्रयास किया और उस पर अनर्गल आरोप लगाते हुए मानसिक उत्पीड़न किया। प्रियंका का कहना है कि कई बार खेल के दौरान पति और ससुराल वालों ने स्टेडियम में आकर अभद्रता की। उनके व्यवहार से तंग आकर प्रियंका अपने मायके काशीपुर लौट आई।पति और ससुरालियों ने उसके मायके आकर भी अभद्रता की और जान से मारने की धमकी दी। महिला हेल्पलाइन में काउंसलिंग के बाद भी दोनों पक्षों के बीच समझौता नहीं हुआ। एसपी प्रमोद कुमार ने बताया कि प्रियंका की तहरीर पर पुलिस ने पति संदीप लांबा, ससुर जगदीश प्रसाद लांबा और सास कमला लांबा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *