उत्तराखंड में इतने बजे दिखेगा चंद्रगहण, मंदिरों के कपाट बंद

ख़बर शेयर करें



आज 8 नवंबर को पूर्ण चंद्रग्रहण लगने वाला है। चंद्रोदय के समय ग्रहण भारत के सभी स्थानों पर दिखाई देगा। हालांकि ग्रहण की आंशिक एवं पूर्णावस्था की शुरुआत भारत के किसी भी स्थान से दिखाई नहीं देगा, क्योंकि यह घटना भारत में चंद्रोदय के पहले ही प्रारंभ हो चुकी होगी। ये साल का आखिरी चंद्र ग्रहण होने जा रहा है। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय ने बताया कि ग्रहण की पूर्णावस्था एवं आंशिक अवस्था दोनों ही का अंत देश के पूर्वी हिस्सों से दिखाई देगा। देश के बाकी हिस्सों से आंशिक अवस्था का केवल अंत ही दिखाई देगा।


भारत के अलावा चंद्र ग्रहण दक्षिण अमरीका, उत्तर अमरीका, ऑस्ट्रेलिया, एशिया, उत्तर अटलांटिक महासागर तथा प्रशांत महासागर के क्षेत्रों में भी दिखाई देगा। चंद्र ग्रहण भारतीय समय अनुसार, 14.39 मिनट पर प्रारंभ होगा, जिसकी पूर्णावस्था 15.46 मिनट पर प्रारंभ होगी। ग्रहण की पूर्णावस्था का अंत 17.12 मिनट पर होगा तथा आंशिक अवस्था का अंत 18.19 मिनट पर होगा। भारत में अगला चंद्र ग्रहण 28 अक्टूबर 2023 को घटित होगा, जो कि आंशिक चंद्र ग्रहण होगा। इसके पहले भारत में चंद्र ग्रहण 19 नवंबर 2021 को घटित हुआ था।


वहीं उत्तराखंड में भी ये चंद्रग्रहण दिखाई देगा। भारतीय समय के अनुसार चंद्रग्रहण दोपहर 2:40 से 6:20 के मध्य दिखाई देगा लेकिन उत्तराखंड में यह शाम 5:32 से शुरू होगा। वहीं, हरिद्वार में यह ग्रहण 5:22 बजे से प्रभावी होगा और 6:19 बजे तक रहेगा।
वहीं चंद्रग्रहण के चलते बदरीनाथ धाम के कपाट सुबह पूजा और भोग के बाद 8:15 बजे बंद कर दिए गए। अब शाम 6 बजकर 25 मिनट पर सूतक काल खत्म होने पर मंदिर का शुद्धिकरण होगा। शुद्धीकरण के बाद शाम 6:45 बजे मंदिर के कपाट खोले जाएंगे और पूजा की जाएगी।


राज्य में स्थित अन्य मंदिरों के कपाट भी बंद कर दिए गए हैं। अब शाम 6.19 के बाद ही मंदिरों के कपाट खुलेेंगे और आम जनमानस को भगवान के दर्शन होंगे।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.