यहाँ इस स्टोन क्रशर के बाहर हंगामा मृतक के परिजनों का मुआवजा दिए बगैर शव उठाने से इंकार #deadbody

ख़बर शेयर करें

Haldwani news गोरपड़ाव स्थित उत्तराखंड स्टोन क्रेशर में उस समय भारी हंगामा हो गया जब यहां कार्यरत ऑपरेटर का हाथ मशीन में फस गया जिसके बाद उसे बहुत ही नाजुक स्थिति में अस्पताल में लाया गया जहां उसकी मौत हो गई

जैसी हर खबर उसकी परिजनों को लगी परिजनों का रो रो कर बुरा मृतक के रिश्तेदारों ने शव को लेकर हंगामा करना शुरू कर दिया है जिसके बाद स्टोन क्रेशर के निदेशक आपस में वार्ता कर रहे हैं और घटना के कारण क्रेशर प्रबंधन को जिम्मेदार मान रहे हैं

जानकारी के अनुसार बिंदुखत्ता के इंदिरानगर द्वितीय निवासी 49 वर्षीय श्रमिक की गोरापड़ाव स्थित उत्तराखंड स्टोन क्रेशर की मशीन की चपेट में आने से दर्दनाक मौत हो गयी। उक्त श्रमिक के पुत्र का फरवरी माह में विवाह होना था। इंदिरानगर द्वितीय निवासी 49 वर्षीय रमेश सिंह देवली जोकि गोरापड़ाव स्थित उत्तराखंड स्टोन क्रेशर में कार्यरत थे, शनिवार की दोपहर को लगभग 12:30 बजे स्टोन क्रेशर में काम करते समय अचानक इनका हाथ स्टोन क्रेशर की मशीन में आ गया,

जिन्हें गंभीर अवस्था में उपचार के लिए हल्द्वानी

चिकित्सालय ले गए जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। जैसे ही रमेश सिंह देवली के परिजनों को घटना की खबर मिली तो परिवार में कोहराम मच गया। उनके पुत्र योगेश देवली, गोविंद देवली तथा पत्नी का रो रो कर बुरा हाल हो गया। वह अपने पीछे 2 पुत्र, एक पुत्री सहित भरा पूरा परिवार छोड़ गए हैं। उनके दो बेटे और एक बेटी और अभी किसी का भी विवाह नहीं हुआ

उनके जेष्ठ पुत्र रमेश देवली का आगामी फरवरी माह में विवाह होना था, जिसकी वह अभी से तैयारी में लगे हुए थे, कि आज दोपहर यह दर्दनाक हादसा हो गया। वही बेस अस्पताल में मौत होने के बाद उनका पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम किया गया। जिसके बाद परिवार जन एवं ग्रामीण मृतक के शव को लेकर उत्तराखंड स्टोन क्रेशर में देर शाम पहुंच गए, जिन्होंने क्रेशर के मुख्य द्वार पर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया जो कि देर रात तक जारी था। मौके पर पहुंचे हल्द्वानी कोतवाल व पुलिस अधिकारी आक्रोशित ग्रामीणों को समझाने में जुटे हुए थे, परंतु वह बिना मुआवजे के शव को उठाने के लिए तैयार नहीं हो रहे थे।

इस दौरान उनकी स्टोन क्रेशर के निदेशक विजय सिसोदिया सहित अन्य पाटनरों से वार्ता चल रही थी, प्रदर्शनकारियों में पुष्कर दानू, शिवराज सिंह बिष्ट, कमल दानू, संजय देवली, अशोक बिष्ट, विनोद दानू, सुशील यादव, देव सिंह देवली, किशन बिष्ट, बसंत धामी, रणजीत मेहता सहित भारी संख्या में ग्रामीण शामिल थे।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.