उत्तराखंड के इन इलाकों पर नेपाल के पूर्व पीएम की गंदी नजर, बोले वापस लेंगे

ख़बर शेयर करें

नेपाल के पूर्व प्रधान मंत्री के पी शर्मा ओली ने फिर एक बार भारत के खिलाफ जहर उगला है। ओली ने कहा है कि उनकी पार्टी सत्ता में लौटते ही नेपाल भारत सीमा पर भारत के जरिए दावा किए गए इलाकों पर फिर कब्जा करेंगे।


नेपाल भारत सीमा पर दूरस्थ पश्चिम नेपाल में दारचुला जिले में एक चुनावी सभा को संबोधित करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने भड़काऊ बयान दिया। औली ने कहा कि उनकी पार्टी अगर सत्ता में लौटी तो वो भारत के दावे किए गए हिमालयी इलाकों को फिर से हासिल करेंगे।

उन्होंने कहा है कि “हम कालापानी सहित लिपुलेख और लिंपियाधुरा की भूमि वापस लाएंगे। हम अपनी जमीन का एक इंच भी नहीं छोड़ेंगे।” आपको बता दें कि दो साल ओली के कार्यकाल के दौरान नेपाल सरकार ने लिपुलेख, कालापानी और लिंपियाधुरा को अपना क्षेत्र दिखाते हुए विवादित नक्शा जारी किया था। जिस पर भारत ने कड़ा ऐतराज जताया था।


वहीं नेपाल में ही औली के इस बयान पर आपत्ति जताई गई है। पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. बाबूराम भट्टराई ने ओली से कहा है कि वे राष्ट्रीय अखंडता को चुनाव का एजेंडा न बनाएं। किसी भी पार्टी या व्यक्ति को देश की क्षेत्रीय अखंडता को चुनावी एजेंडा नहीं बनाना चाहिए।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.