यहाँ किक बॉक्सिंग मे थोपडे पर पड़ा मुक्का, हुई मौत आयोजक फरार

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी एसकेटी डॉट कॉम

खेल कई बार इतने घातक हो जाते हैं कि खिलाड़ी की मौके पर ही मौत हो जाती है. जैसे क्रिकेट में भी कई खिलाड़ी बॉल से चोटिल होने के बाद अपनी जिंदगी से जान खो बैठे. ऐसे ही कुछ बेंगलुरु में आयोजित किक बॉक्सिंग प्रतियोगिता के दौरान हुआ. जाओ उदयीमान किक बॉक्सर निखिल को प्रतिद्वंदी द्वारा मारे गए एक बॉक्सिंग से जोरदार चोट लगी और वहीं बेहोश हो गया.

आयोजकों के पास में तो वहां डॉक्टरों एंबुलेंस की व्यवस्था नहीं थी बॉक्सर निखिल के खोज एवं उसके पिता समय असहज हो गए निखिल को अस्पताल भेजा गया जान 2 दिन कोमा मे रहने के बाद उसकी मौत हो गई.

किक बॉक्सर निखिल की फाइल फोटो

खेल के दौरान खिलाड़ियों को चोट लगती रहती है. ऐसा हर खेल में देखने को मिलता है. लेकिन, कुछ खेल वैसे होते हैं जिसमें जान पर हमेशा बनी रहती है. बॉक्सिंग (Boxing) ऐसा ही एक खेल है. और, जब मुकाबला किक बॉक्सिंग का हो तो बात और गंभीर हो जाती है. बेंगलुरु में किक बॉक्सिंग दौरान ही एक बड़ा हादसा हुआ है. मुकाबले के दौरान ही एक 23 साल के बॉक्सर को ऐसा पंच लगा कि वो वहीं चित हो गया. आनन फानन में अस्पताल तो पहुंचा लेकिन दो दिन तक कोमा में रहने के बाद फिर दम तोड़ दिया. घटना के बाद पुलिस में मामले में कार्यवाही शुरू कर दी है.

बॉक्सर की मौत का ये मामला 10 जुलाई का है. नवीन और निखिल नाम के दो बॉक्सरों के बीच ये मुकाबला था. इस मुकाबले में नवीन का एक पंच खाकर निखिल रिंग के अंदर धड़ाम से गिर गया. पहले तो निखिल को उठाने की तमाम कोशिशें हुई. फिर जब वो नहीं उठा तो उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां दो दिन तक कोमा में रहने के बाद उसने दम तोड़ दिया.घटना के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है.

पुलिस ने इस मामले में किक बॉक्सिंग प्रतियोगिता के आयोजक और प्रतिद्वन्दी खिलाड़ी के खिलाफ मामला दर्ज किया है. जान गंवाने वाला बॉक्सर निखिल मैसूर का रहने वाला था और किक बॉक्सिंग में अपने प्रदर्शन से अच्छा नाम कमा लिया था. उसके पिता कराटे के खिलाड़ी रहे हैं.

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.