यहां कावड़ यात्रा के दौरान माहौल बिगाड़ने की कोशिश, मुस्लिम युवकों ने तीन मजारों पर की तोड़फोड़-जलाई चादर, पुलिस ने किया गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें

Prashant Kumar

उत्तर प्रदेश के बिजनौर में सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश की गई है. दरअसल बिजनौर के शेरकोट थाना क्षेत्र में रविवार को जलाल शाह और भूरे शाह की मजार पर तोड़फोड़ की गई. घटना के फौरन बाद इसकी सूचना पुलिस को दी गई. एडीजी लॉ एंड आर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि ‘आज बिजनौर के अंतर्गत थाना शेरकोट में पुलिस को शाम पांच बजे सूचना मिली कि दो लोगों ने जलाल शाह की मजार पर तोड़फोड़ की है. उन्होंने कुछ चादर जलाई है. जिसके बाद पुलिस वहां पहुंची. तभी सूचना मिली कि उसी थाना क्षेत्र के भूरे शाह की मजार पर भी आगजनी और तोड़फोड़ हुई है.’

एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया, ‘ पुलिस भूरे शाह पहुंची और 2 युवक कमाल और आदिल को गिरफ़्तार किया, ये दोनों सगे भाई हैं. सूचना ये भी थी कि धार्मिक ग्रंथों को क्षति पहुंचाई गई है. धर्मगुरुओं के सामने जांच की गई तो पाया गया कि धार्मिक ग्रंथों को कोई क्षति नहीं पहुंचाई गई है.

मजार पर की गई आगजनी और तोड़फोड़

आज बिजनौर के अंतर्गत थाना शेरकोट में पुलिस को शाम 5 बजे सूचना मिली कि 2 लोगों ने जलाल शाह की मज़ार पर तोड़फोड़ की है तथा कुछ चादर जलाईं हैं। पुलिस वहां पहुंची तभी सूचना मिली कि उसी थाना क्षेत्र में भूरे शाह की मज़ार पर भी आगजनी और तोड़फोड़ हुई है: ADG(कानून-व्यवस्था) उ.प्र.(1/3)

पुलिस ने दो लोगों को किया गिरफ्तार

वहां पुलिस पहुंची तथा 2 लोगों कमाल और आदिल को गिरफ़्तार किया, ये दोनों सगे भाई हैं। सूचना ये भी थी कि धार्मिक ग्रंथों को क्षति पहुंई गई है। धर्मगुरुओं के सामने जांच की गई तो पाया गया कि धार्मिक ग्रंथों को कोई क्षति नहीं पहुंचाई गई है: प्रशांत कुमार ADG(कानून-व्यवस्था) उ.प्र.

एडीजी ने कहा, ‘अभियुक्तों ने बताया कि शेरकोट कस्बे में 11.30 बजे कुतुब शाह की मजार पर भी तोड़फोड़ की थी, जो संज्ञान में नहीं आई. घटना दर्शाती है कि कांवड़ यात्रा के दौरान माहौल खराब करने की कोशिश की जा रही है. सभी फील्ड अधिकारियों को सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं.’

वहीं अब दोनों आरोपियों से पूछताछ की जा रही है और जांच पड़ताल भी की जा रही है. बताया जा रहा है कि दोनों युवकों से यूपी एटीएस भी पूछताछ कर सकती है.

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.