यहां पढ़ाई ने फिर दम घोंटा, तीन छात्रों ने कर ली आत्महत्या; 2 एक ही हॉस्टल में रहते थे

ख़बर शेयर करें

राजस्थान के कोटा की पढ़ाई ने एक बार फिर दम घोंटा है, जहां 3 कोचिंग छात्रों के आत्महत्या करने की खबर है। बताया जा रहा है कि इनमें से 2 स्टूडेंट्स एक ही हॉस्टल में रहते थे। कोटा के पुलिस अधीक्षक केशर सिंह शेखावत ने बताया कि मृतकों में 2 छात्र बिहार के रहने वाले थे। ये दोनों एक प्रमुख कोचिंग संस्थान में पढ़ रहे थे। दोनों छात्रों को सोमवार को पेइंग गेस्ट (पीजी) आवास में छत के पंखे से लटका पाया गया। पहला लड़का 19 साल का और दूसरा 18 साल का था।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि दोनों 11वीं कक्षा के छात्र थे और पिछले 6 महीने से एक ही पीजी आवास के अलग-अलग कमरों में रह रहे थे। उन्होंने कहा, ‘अभी तक यह पता नहीं चल सका है कि वे दोस्त थे या नहीं। आत्महत्या से मौत की इस घटना का पता तब चला जब पीजी मालिक ने पुलिस कंट्रोल रूम को इसकी जानकारी दी।’

Agra News: छात्र की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, कोटा में कर रहा था नीट की तैयारी, परिवार में कोहराम - Medical student died under suspicious circumstances in Kota

कमरे से आज सुबह बाहर नहीं निकले छात्र
सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस ने बताया कि PG ओनर को उस वक्त संदेह हुआ जब ये दोनों लड़के आज सुबह अपने कमरे से बाहर नहीं आए। मालिक ने कई बार उनके कमरों का दरवाजा खटखटाया लेकिन उन्हें कोई जवाब नहीं मिला। इसके बाद पीजी ओनर ने दोनों दरवाजे तोड़ दिए और देखा कि लड़के सीलिंग फैन से लटके हुए हैं। 

घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। लड़कों के मोबाइल फोन की जांच की जा रही है ताकि और अधिक जानकारी हासिल की जा सके। पुलिस ने बताया, ‘2 लड़के कोटा में बीते तीन सालों से रह रह थे। माना जा रहा है कि रविवार रात डिनर करने के बाद उन्होंने आत्महत्या कर ली। दूसरे लड़के ने बीती रात अपनी बहन को कॉल किया था।’

Rajasthan: शिक्षा नगरी कोटा में 3 कोचिंग छात्रों ने कथित तौर पर किया सुसाइड, मचा हड़कंप, 3 coaching students allegedly committed suicide in Kota

एक छात्र ने खाया जहरीला पदार्थ
एक अन्य घटना में 17 साल के एक छात्र ने कथित तौर पर जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली। वह मध्य प्रदेश के शिवपुरी का रहने वाला था। पुलिस ने बताया कि लड़का मेडिकल कॉलेज में प्रवेश के लिए राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET) की तैयारी कर रहा था। वह 2 साल से कोटा में रह रहा था।

पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘बीती रात एक छात्र पीजी की गैलरी में बेहोश हुआ मिला। इस पर एक दूसरे स्टूडेंट की नजर पड़ी, जो वहां पानी भरने आया था। उसने हॉस्टल के ओनर को इसकी जानकारी दी। छात्र को बेहोशी की हालत में ही अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टर ने कुछ समय बाद उसे मृत घोषित कर दिया।’

Ad Ad Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.