हल्द्वानी- बेटे की मौत की खबर लेकर घर पहुंची पुलिस तो माँ मिली नशे में धुत्त

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी skt. com

Ad
Ad

नशा ऐसा रोग है जिसका अगर सही समय पर इलाज नहीं हो तो परिवार के परिवार खत्म हो जाते हैं ऐसा ही एक मामला हल्द्वानी में सामने आया जहां नशे की वजह से काले पीलिया से ग्रस्त बेटे की मौत हो गई मां से दवाई मंगाई तो वह दवाई लेकर ही नहीं लौटी बेटे की मौत के बाद जब पुलिस घर में पहुंची तो नशे में धुत्त थी

जानकारी के अनुसार बीमार बेटे को इलाज के लिए लेकर पहुंची नशेड़ी मां उसे बेस अस्पताल में लावारिस छोड़ गई। चिकित्सकों ने उसे दवा लेने भेजा, फिर वह लौट कर नहीं आई। बेटे की मौत हो गई। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे खंगाले तो परिजनों को पता चला। जिसके बाद पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया।

नशे ने बिगाड़ दिया काला पीलिया
स्वार बाजपुर ऊधमसिंहनगर निवासी दीपक कश्यप (33 वर्ष) पुत्र स्व. हरिओम कश्यम खानाबदोशों की जिंदगी जीता था और परिवार के साथ हल्द्वानी में रहता था। दीपक का पूरा परिवार नशे का आदी है। दीपक को काला पीलिया था। बीमारी में नशे ने  उसकी हालत बिगाड़ दी। बीती 9 मई को दीपक की मां उसे गंभीर अवस्था में सोबन सिंह जीना बेस अस्पताल लेकर पहुंची।

जिस दिन छोड़कर आई उसी दिन मरा बेटा
चिकित्सकों ने दीपक की मां से कुछ दवाएं मंगाई। वह दवा लेने गई तो फिर लौट कर नहीं आई और उसी दिन दीपक की मौत हो गई। महिला नहीं लौटी तो चिकित्सकों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे खंगाले और महिला व परिजनों को ढूंढ निकाला। जिन्होंने दीपक की पहचान की।

मौत की खबर लेकर पहुंची पुलिस तो नशे में धुत मिली मां
पुलिस दीपक के परिजनों को तलाशते हुए उसके परिजनों तक पहुंची तो माहौल देख हैरत में पड़ गई। दीपक की मौत की खबर लेकर पहुंची पुलिस ने पाया कि उसकी नशे में धुत थी। बताया जाता है कि दीपक और उसकी मां ही नहीं बल्कि पूरा परिवार नशे का लती है।