हल्द्वानी निवासी नटवरल लाल को अल्मोड़ा पुलिस ने यहाँ से किया गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी एसकेटी डॉटकॉम

कई लोगों को नौकरी लगाने के नाम पर झांसा देकर करोड़ों रुपए ठगने के आरोप में हल्द्वानी निवासी रितेश पांडे को अल्मोड़ा की दन्या पुलिस ने बड़े नाटकीय अंदाज में देहरादून के शास्त्री नगर से गिरफ्तार किया है.

इससे पहले नैनीताल पुलिस ने भी इसे हल्द्वानी के मुखानी थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया था लेकिन उसके बाद कई इसके मामले अल्मोड़ा में भी दर्ज रहे जमानत मिलने के बाद यह फरार हो गया. अल्मोड़ा में दर्ज मामलों के चलते अल्मोड़ा पुलिस ने इसे देहरादून से गिरफ्तार किया.

रोजगार के नाम पर नौकरी लगाने के नाम पर लोगों से 2 करोड़ की धोखाधड़ी की ठगी करने वाला 420 हल्द्वानी के चार जिलों के वांटेड अपराधी नटवरलाल पर 2,500 का इनामी घोषित ‌किया गया था |

एसएसपी प्रदीप कुमार राय ने नौकरी के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले वांटेड अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए सीओ अल्मोड़ा व थानाध्यक्ष दन्या को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इस पर सीओ विमल प्रसाद के नेतृत्व में थानाध्यक्ष सुशील कुमार व पुलिस टीम ने अभियुक्त रितेश पांडे की धरपकड़ के प्रयास शुरू कर दिए।

इस पर उसे शास्त्री नगर देहरादून से गिरफ्तार किया गया। अभियुक्त चार जिलों ऊधमसिंहनगर, नैनीताल, अल्मोड़ा व बागेश्वर में कुल 14 अभियोगों में वांछित चल रहा था। उसने नौकरी लगाने के नाम पर लोगों से 2 करोड़ की धोखाधड़ी की है। वह 2,500 रुपये का ईनामी गैंगस्टर है।

पुलिस टीम में थानाध्यक्ष दन्या सुशील कुमार, कांस्टेबल सुरेन्द्र सिंह नेगी, प्रेम सिंह शामिल रहे.

रितेश हल्द्वानी में भी राजनीतिक पहुंच के चलते कई लोगों से ठगी कर चुका था. वह उत्तराखंड रक्षा मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुका है. कांग्रेस कार्यकाल में उसने कई नेताओं के साथ नजदीकी दिखाते हुए लोगों को झांसे में लेते हुए ठगी की.

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.