हाईकोर्ट के जज की बहन के घर चोरी करने वाले चार गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें

हाईकोर्ट के जज की बहन के घर चोरी करने वाले चार गिरफ्तार

नई दिल्ली . दक्षिण जिले के ग्रेटर कैलाश थाना पुलिस ने हाईकोर्ट के न्यायाधीश की बहन सुनीता की कोठी में हुई सेंधमारी की वारदात को सुलझाते हुए बिहार के ज्वेलर समेत चार आरोपितों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार आरोपितों में एक महिला भी शामिल है. महिला ने ताला तोड़ने वाले औजार व ज्वेलरी छिपाई थी. आरोपितों के कब्जे से चुराई गई पूरी ज्वेलरी बरामद कर कर ली गई है. आरोपितों के खिलाफ पहले से कई मामले दर्ज हैं.

डीसीपी बेनिता मेरी जैकर ने गुरुवार को बताया कि पंपोज एंक्लेव के डी-ब्लाक में हाईकोर्ट के न्यायधीश की बहन सुनीता रहती है. वह परिवार समेत एक मई को घूमने गई थे. 24 मई को रिश्तेदार कोठी में सफाई करने आया तो सब ठीक था. जब रिश्तेदार 30 मई को दुबारा सफाई करने गया तो घर के पिछले दरवाजे का ताला टूटा हुआ था.

पहली मंजिल पर रखी अलमारी का भी ताला टूटा हुआ था और उससे ज्वेलरी गायब थी. मामला दर्जकर ग्रेटर कैलाश-एक थानाध्यक्ष अजित सिंह की देखदेख में इंस्पेक्टर प्रेम सिंह, एसआइ श्रीभगवान, एसआइ अनिल कुमार व एसआइ धीरज की टीम ने जांच शुरू की. कोठी में लगे सीसीटीवी फुटेज से पता लगा कि 26 व 27 मई की रात दो लड़के पीछे की तरफ से घर में घुसे थे.

पुलिस ने आसपास लगे करीब 150 सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाला. कई दिन की जांच के बाद इंस्पेक्टर अजित कुमार की टीम ने दो आरोपितों बिहार (Bihar) के सीतामढ़ी निवासी संजय तिवारी व कोटला मुबाकरपुर के अलीगंज निवासी अजय रावत की पहचान की. पुलिस टीम ने दबिश देकर दोनों को पकड़ लिया. अजय रावत के पास से एक लाख 40 हजार रुपये बरामद किए गए.

संजय तिवारी की निशानदेही पर उससे चोरी की ज्वेलरी खरीदने वाले ज्वेलर शत्रुघ्न को भी बिहार (Bihar) के सीतामढ़ी से ही गिरफ्तार कर लिया गया. उसके कब्जे से चोरी की सारी ज्वेलरी बरामद कर ली गई. अजय रावत की निशानदेही पर उसकी महिला दोस्त अंजुला तिवारी को गिरफ्तार कर लिया गया.

अंजुला के कब्जे से दो हीरे की अंगूठी, एक ईयर रिंग के साथ हीरे का नग व घर का दरवाजा तोड़ने के औजार बरामद किए गए. संजय तिवारी(34) के खिलाफ 34 अपराधिक मामले दर्ज हैं. मूलरूप से उत्तराखंड निवासी व दिल्ली में दक्षिणपुरी में रह रहे अजय रावत के खिलाफ 17 से ज्यादा अपराधिक मामले दर्ज हैं.

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.