44 साल से फरार लाल वारंटी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें

वर्ष 1978 में दर्ज कराए गए एक प्राथमिकी के नामजद आरोपी को पुलिस ने 44 वर्षों के बाद गिरफ्तार कर लिया है। देवघर पुलिस ने सोनारायठाढ़ी थाना क्षेत्र अंतर्गत दोंदिया नवाडीह गांव निवासी 62 वर्षीय अभियुक्त नरेश प्रसाद मंडल को गिरफ्तार कर लिया है। गुरुवार को स्वास्थ्य जांच कराने के बाद आरोपी को न्यायालय के आदेश पर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

पुलिस ने 44 साल बाद गिरफ्तार अभियुक्त से पूछताछ कर मामले से जुड़ी जानकारी भी प्राप्त की। जानकारी के अनुसार गिरफ्तारी नहीं हो पाने के कारण आरोपी के विरूद्ध वर्ष 2007 में भी न्यायालय से वारंट निकला था।

पुलिस के अनुसार आरोपी के विरूद्ध न्यायालय से लाल वारंट निर्गत था। इस संबंध में पुलिस ने बताया कि वर्ष 1978 में पॉलिटेक्निक कॉलेज, दुमका में मारपीट व चोरी को लेकर एक केस दर्ज कराया गया था। जिसमें अभियुक्त नरेश प्रसाद मंडल को नामजद अभियुक्त बनाया गया था।

मामला दर्ज होने के पश्चात अभियुक्त नरेश प्रसाद मंडल कॉलेज की डिग्री प्राप्त कर तत्कालीन बिहार के जमुई जिलांतर्गत झाझा में जूनियर इंजीनियर के रूप में पदस्थापित किया गया। उस बीच अनुसंधान भी पेंडिंग रहा।

पुलिस ने बताया कि आरोपी नौकरी से सेवानिवृत्त भी हो गया। वर्तमान में नगर थाना क्षेत्र के बरमसिया चौक में साकेत बिहार मोहल्ला में घर बनाकर रहता है। वरीय पुलिस पदाधिकारी के आदेशानुसार आरोपी के विरूद्ध कार्रवाई शुरू की गई और आरोपी को 44 वर्षों के बाद गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.