पहले दुष्कर्म की कोशिश, फिर हत्या कर किए शव के टुकड़े और रख दिए ट्रेन में, आरोपी गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें


बीते दिनों ऋषिकेश में एक उज्जैन से आने वाली ट्रेन में एक महिला के कटे हुए हाथ और पैर मिले थे। जबकि महिला के शरीर के अन्य टुकड़े इंदौर की एक ट्रेन में मिले थे।ट्रेन में मिले महिला के टुकड़े वाली इस गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है और मामले का खुलासा कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

Ad
Ad

इंदौर और ऋषिकेश की ट्रेन में मिले महिला के टुकड़े मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया। पुलिस ने आरोपी को उज्जैन से गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि आरोपी ने पहले महिला के साथ दुष्कर्म की कोशिश की। दुष्कर्म में नाकाम होने पर उसने महिला की गला दबाकर हत्या कर दी। जिसके बाद उसने महिला के शव के धारदार हथियार से टुकड़े किए और ट्रेन में रख दिए।

पुलिस ऐसे पहुंची आरोपी तक
इस मामले में पुलिस आरोपी तक मृतक महिला के फोन के जरिए पहुंची। बता दें कि भारत के दो राज्यों की ट्रेन में तीन भागों में महिला का शव मिला था। महिला का शरीर पुलिस को इंदौर की ट्रेन में, हाथ पैर उत्तराखंड के ऋषिकेश की ट्रेन में और सिर एक ठेले में इंदौर से बरामद किया गया था।

ऋषिकेश में मिले हाथ और पैर में से पुलिस के हाथ अहम सुराग लगा। हाथों पर महिला का नाम गुदा हुआ था। इसी के आधार पर पुलिस रतलाम पहुंची थी। जिसके बाद पुलिस ने खुलासा करते हुए कमलेश नामक एक आरोपी को गिरफ्तार किया है।

पहले गला दबाकर की हत्या फिर किए टुकड़े
पुलिस में उज्जैन में ही कैटरिंग का काम करने वाले कमलेश पटेल गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि मृतका का रतलाम में पति से विवाद हो गया था। जिसके बाद वो ट्रेन से उज्जैन आ गई। जहां पर वो प्लेटफॉर्म पर बैठी थी कि तभी वहां पर कमलेश को महिला दिखी। उसने महिला से बात की और उसे अपने साथ अपने घर ले गई।

आरोपी ने महिला को खाना खिलाने के बहाने बेहोशी की दवा खिलाई और फिर उसके साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया। जब महिला ने इसका विरोध किया तो उसने महिला के सिर पर हमला कर उसे बेहोश कर दिया। बाद में उसने महिला का गला घोटकर उसकी हत्या कर दी और फिर धारदार हथियार से उसके टुकड़े कर दिए