सीएम धामी ने काफिला रोक खरीदे दीये, वोकल फॉर लोकल का दिया संदेश

ख़बर शेयर करें


प्रदेशवासियों को मुख्यमंत्री धामी ने दीं धनतेरसए दीपावलीए गोवर्धन पूजा एवं भैयादूज की शुभकामनाएं


उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने धनतेरस, दीपावली, गोवर्धन पूजा और भैयादूज के पावन पर्व पर देश और प्रदेशवासियों की सुख-शांति और समृद्धि की कामना की है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा है कि धनतेरस पर आरोग्यता के देव भगवान धन्वंतरी की पूजा का बड़ा महत्व है। उन्होंने प्रार्थना कि भगवान धन्वंतरी सबके जीवन में सुख-समृद्धि और आरोग्यता प्रदान करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि दीपावली का पर्व मर्यादा, सत्य और सद्भावना का संदेश देता है।

दीपों का यह पर्व भगवान राम के 14 वर्ष के वनवास के बाद अयोध्या वापस आने की वजह से मनाया जाता है। दीपावली बुराई पर अच्छाई और अंधकार पर प्रकाश की विजय का प्रतीक है। मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि गोवर्द्धन पूजन समाज और देश की आर्थिक-सांस्कृतिक संसाधनों के संरक्षण का प्रतीक है। भैयादूज पर्व पर उन्होंने प्रदेशवासियों, विशेषकर महिलाओं को बधाई व शुभकामनाएँ दी।


सीएम धामी ने काफिला रोक खरीदे दीए
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को काशीपुर से खटीमा पहुंचकर खटीमा के मैन बाजार में अपना काफिला रुकवाकर मिट्टी से बने दीयों को खरीदा। उन्होंने इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान वोकल फॉर लोकल के अभियान को बढ़ाते हुए अपना सहयोग बताया। उन्होंने कहा कि मिट्टी से बने दीये स्थानीय लोगों की आर्थिकी को मजबूत करता है।


एक दिया मेरा भी प्रभु को समर्पित
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कल काशीपुर में हिन्दू राष्ट्र शक्ति की ओर से आयोजित द्वितीय भव्य दीपोत्सव में ‘एक दीया मेरा भी प्रभु को समर्पित‘ कार्यक्रम में भाग लिया। इस अवसर पर उन्होंने अन्धकार पर प्रकाश की विजय के प्रतीक दीप जलाए। मुख्यमंत्री ने दीपावली की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि भारतीय संस्कृति की चेतना के प्राण मर्यादा पुरुषोत्तम राम के चरणों में मेरा दंडवत प्रणाम।


उन्होंने कहा भगवान राम के जीवन का प्रत्येक पक्ष हम सभी के लिए एक प्रेरणास्रोत है जो हमे हर परिस्थिति में अपने कर्तव्यों का पालन करते रहने की सीख देता है, उनके जीवन के प्रत्येक घटनाक्रम में मानवीय आदर्श की पराकाष्ठा देखने को मिलती है यही कारण है कि सदियां बीत जाने के बाद भी भगवान श्रीराम की पावन जीवन गाथा संपूर्ण मानवजाति को प्रेरित करने का कार्य कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हमारी संस्कृति को उजागर करने का काम हो रहा है। उन्होंने कहा की आपदा के बाद केदारनाथ धाम का पुनर्निर्माण हुआ है, संपूर्ण परिसर में सरस्वती घाट, आस्था पथ, ध्यान केंद्र, और व्यापारियों के लिए विभिन्न विकास कार्यों का निर्माण कार्य चल रहा है।


उन्होंने कहा बद्रीनाथ धाम के भव्य निर्माण के लिए मास्टर प्लान बनाया। जिस पर तीव्र गति से काम हो रहा है। मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने हाल ही में देश के अंतिम माणा गांव में 3400 हजार करोड़ रूपए से अधिक की विकास परियोजनाओं का शिलान्यास किया, जिसमे गौरीकुंड-केदारनाथ और गोविंदघाट-हेमकुंड साहिब दो नई रोपवे परियोजना शामिल है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार का लक्ष्य उत्तराखंड को 25वें वर्ष पर संस्कृति, पर्यटन रोजगार कृषि बागवानी जैसे विभिन्न क्षेत्रों में देश का सर्वश्रेष्ठ राज्य बनाना है, जिसके लिए राज्य सरकार विकल्प रहित संकल्प के साथ कार्य कर रही है। उन्होंने कहा सभी विभागों को अगले 10 वर्षो के विकास कार्यो का रोडमैप तैयार करने के लिए कहा गया है।


इस अवसर पर कैलाश चन्द्र गहतोड़ी, विधायक त्रिलोक सिंह चीमा, भाजपा जिलाध्यक्ष विवेक सक्सेना, पूर्व विधायक हरभजन सिंह चीमा, दीपक बाली, मुकेश कुमार, मेयर श्रीमती उषा चौधरी, भाजपा महामंत्री खिलेंदर चौधरी जी एवं अन्य लोग मौजूद रहे।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.