सावधान- अब हटेगा प्रदेश का सबसे बड़ा अतिक्रमण रेलवे ने सौपा मास्टर प्लान

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी एसकेटी डॉट कॉम

प्रदेश का अब तक का सबसे बड़ा अतिक्रमण जो रेल रेलवे की जमीन पर वर्षों से चला आ रहा है आखिर अब उसके हटने का समय नजदीक आ गया है रेलवे द्वारा अतिक्रमण हटाए जाने का भारी-भरकम प्लान जिला प्रशासन और उच्च न्यायालय में सौंप दिया है। रेलवे अपने इस मास्टर प्लान के तहत करीब 1 महीने में इस समूचे अतिक्रमण को हटाएगा। मंगलवार को जिला प्रशासन को सोते हुए मास्टर प्लान के तहत 29 दिन का प्लान सौंपा गया जिसमें प्रतिदिन अलग-अलग वर्ग मीटर प्लान हटाए जाने के बारे में स्पष्ट रूप से बताया गया है।


प्रशासन अब सुरक्षा बालों को लेकर योजना बनाने की तैयारी कर रहा है जिसके तहत बड़ी संख्या में मजिस्ट्रेट और सुरक्षा बल सुबह 8:00 बजे से शाम के 6:00 बजे तक लगातार इस अतिक्रमण को हटाएगा । हल्द्वानी रेलवे ने अपनी भूमि से अतिक्रमण की उल्टी गिनती शुरू हो गई है रेलवे और जिला प्रशासन अतिक्रमण हटाने के लिए सभी तैयारियां पूरी कर रहा है। रेलवे ने अतिक्रमण हटाने के लिए जिलाधिकारी को मास्टर प्लान सौंप दिया है 28 दिन तक लगातार अतिक्रमण तोड़ने का अभियान चलेगा, जबकि दो दिन रिजर्व में रखे गए हैं रेलवे ने जिला प्रशासन से फोर्स भी मांगी है। अब जिला प्रशासन को तय करना है कि कब से अतिक्रमण तोड़ा जाएग इसे लेकर डीएम जल्द ही रेलवे और पुलिस के साथ बैठक करने जा रहे हैं।


रेलवे ने डीएम धीराज गर्ब्याल को मंगलवार को मास्टर प्लान सौंपा है मास्टर प्लान में रेलवे ने अतिक्रमण तोड़ने के लिए वह कितने कर्मचारी लगाएगा, जेसीबी, रेलवे पुलिस फोर्स लगाएगा, इसकी जानकारी दी है। साथ ही यह भी बताया है कि किस दिन कितना वर्ग मीटर अतिक्रमण तोड़ा जाएगा। रेलवे ने अतिक्रमण तोड़ने के प्लान में दो दिन रिजर्व में रखे हैं। अतिक्रमण सुबह आठ बजे से शाम छह बजे तक तोड़ा जाएगा।

इसके अलावा रेलवे ने अतिक्रमण की जद में आने वाली सरकारी संपत्ति, निजी संपत्ति, धार्मिक स्थल की सूची भी जिला प्रशासन को सौंपी है। जिला प्रशासन से फोर्स और मजिस्ट्रेट भी मांगे गए हैं। हालांकि अभियान कब से शुरू किया जाए अभी तिथि निश्चित नहीं हुई है।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.