भाजपा विधायक उमेश शर्मा काऊ के मामले के बाद हरक सिंह रावत,सुबोध उनियाल,सतपाल महाराज हुए एकजुट, यशपाल ने किया हरक पर पलटवार

Ad
ख़बर शेयर करें

राज्य में जब कांग्रेस पार्टी में फूट पड़ी थी तब कांग्रेस के कुछ बागी मंत्री व विधायक कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए थे और कॉन्ग्रेस से भाजपा में 11 मंत्री और विधायक आए थे। इनमें से नो विधानसभा चुनाव में जीत हासिल कर सत्ता में वापसी कर पाए थे, जिनमें पांच सरकार में मंत्री और चार विधायक हैं। पिछले दिनों रायपुर विधायक उमेश शर्मा काऊ का मामला सामने आया था। उसके बाद हरक सिंह रावत , सुबोध उनियाल और सतपाल महाराज एकजुट नजर आए थे। लेकिन, उनके पुराने साथी यशपाल आर्य ने हरक सिंह रावत पर पलटवार कर दिया है।कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत के बयान पर कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य ने सधे अंदाज में पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी एक परिवार की तरह है। सभी को अपनी बात रखनी चाहिए, लेकिन उसके पार्टी फोरम में तय है। यशपाल आर्य ने कहा कि ये मामला भाजपा आलाकमान के संज्ञान में है। जो भी विवाद हुआ था, उसकी छानबीन और जांच भी हो रही है।उन्होंने कहा कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने प्रदेश महामंत्री को मामले की जांच की जिम्मेदारी दी है। हम सभी को एक साथ मिलकर काम करने की आवश्यकता है। इस तरह के मामले सामने आते हैं, तो यह चिंता का विषय है। साथ ही कहा कि बीजेपी बड़ा परिवार है। छोटी-मोटी घटनाएं घटती रहती हैं। यशपाल आर्य ने कहा कि महारे पास एक मंच है और उसीके जरिए अपनी बातें रखनी चाहिए।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *