भाजपा आलाकमान ने मनाया मन,धामी को मिलेगा उनकी मेहनत का इनाम गद्दी पर दुबारा होंगे विराजमान

ख़बर शेयर करें

राज्य में जिस प्रकार से भाजपा ने अपना पूर्ण बहुमत का आंकड़ा भी पार कर दिया इससे साफ तौर पर अंदाजा लगाया जा सकता है कि किस प्रकार से कम समय में पुष्कर सिंह धामी के द्वारा किए गए कार्यों को जनता ने पसन्द किया है और प्रदेश का युवा नेतृत्व उत्तराखंड की जनता को काफी पसंद आया है ऐसे में भाजपा किसी भी प्रकार से उत्तराखंड की राजनीति गढ़ को बचाने वाले पुष्कर सिंह धामी के साथ किसी भी प्रकार से आलाकमान अनदेखा नहीं कर सकती है और सूत्रों के हवाले से खबर यह आ रही है कि उत्तराखंड का गढ़ बचाने वाले पुष्कर सिंह धामी को एक बार फिर से उत्तराखंड के सीएम के तौर पर जिम्मेदारी मिलेगी और उत्तराखंड के अगले सीएम पुष्कर सिंह धामी ही होंगे। पब्लिक की पसंद और युवा नेतृत्व को देखते हुए बीजेपी अब किसी भी तरह का रिस्क नहीं लेना चाहती।पिछले साल जुलाई में हुए सत्ता परिवर्तन के बाद बीजेपी ने धामी को राज्य की कमान सौंपी थी।

इसके बाद धामी ने राजनीतिक कौशल का परिचय देकर पार्टी हाईकमान का ध्यान खींचने में सफलता पाई थी। यही वजह है कि पार्टी ने साफ कर दिया था कि विधानसभा चुनाव में धामी ही उसका चेहरा होंगे। पुष्कर सिंह धामी ही मेहनत का ही नतीजा रहा कि बीजेपी स्पष्ट बहुमत से सत्ता में आ गई, लेकिन वो अपना दुर्ग नहीं बचा पाए। धामी के चुनाव हारने के बाद कई विधायकों ने उनके लिए अपनी सीट खाली करने की पेशकश की है। चंपावत से चुनाव जीतने वाले बीजेपी विधायक कैलाश गहतोड़ी ने कहा कि अगर धामी दोबारा चुनाव लड़ने को तैयार हैं, तो वो उनके लिए सीट छोड़ सकते हैं। इस बीच खबर है कि केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और धर्मेंद्र प्रधान उत्तराखंड आएंगे। दरअसल बीजेपी आलाकमान ने दोनों को उत्तराखंड में पर्यवेक्षक बनाया है। दोनों ही मंत्री तमाम तरह की राय लेगें और इस बात पर कोई फैसला लेंगे।

विधानसभा चुनाव क्योंकि पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में ही लड़ा गया था, ऐसे में दबी जुबान में धामी को एक और मौका देने की बात भी हो रही है। सूत्रों का कहना है कि हाई कमान ने मन बना लिया है और मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को उनकी मेहनत का इनाम मिल सकता है।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.